Breaking News

सांसद अरुण साव ने कहा- भूपेश सरकार से दो साल में ही जनता त्रस्त ….

मुंगेली। सांसद अरुण साव ने कहा कि लुभावने वायदे कर सत्ता में आई राज्य की कांग्रेस सरकार से जनता दो साल में ही त्रस्त हो गई है। इस सरकार से सभी जल्दी से जल्दी मुक्ति चाह रहे हैं। किसानों के प्रति भी इनकी नीयत साफ़ नहीं है। वे स्थानीय भाजपा कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पूर्ण शराबबंदी, 25 सौ रुपए में धान खरीदी, किसानों का पूर्ण कर्जा माफी, दैवेभो व संविदा कर्मियों का नियमितीकरण, दो साल का बकाया बोनस भुगतान, 25 सौ रुपए बेरोजगारी भत्ता देने जैसे लोकलुभावन वायदे कर भूपेश सरकार राज्य की सत्ता में आई है। दो वर्षों में ही ये सभी वायदे झूठे साबित होते दिख रहे हैं। गंगा जल की झूठी क़समें खाने वाली सरकार का असली चेहरा सामने आ गया है। प्रदेश के किसान, बेरोजगार युवा, अधिकारी कर्मचारी खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। धान खरीदी केन्द्रों में अव्यवस्था का आलम है। कहीं किसानों के टोकन नहीं कट रहे, गिरदावरी के नाम पर रकबा कम कर दिया गया, तो कहीं बारदानों की किल्लत के चलते धान खरीदी बंद है। किसान केन्द्रों का चक्कर काट रहे हैं।

स्पष्ट है कि धान खरीदी के लिए राज्य सरकार की कोई पूर्व तैयारी नहीं थी। साव ने कहा कि केन्द्र सरकार की पीएम आवास, उज्जवला जैसी योजनाओं के कार्य राज्यांश के अभाव में ठप्प पड़े हैं। डा. रमन सिंह की सरकार द्वारा शुरू की गई जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया गया है, जिससे जनता नाराज है। इन दो वर्षों में एक भी नया विकास कार्य राज्य की कांग्रेस सरकार कहीं शुरू नहीं करा पाई है, बल्कि रमन सरकार द्वारा शुरू कराए गए कार्यों को पूर्ण कराने की स्थिति में नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के दौर में भी भूपेश सरकार पंचायतों में राहत कार्य नहीं करा पाई। प्रवासी मजदूरों को रोजगार केन्द्र की मनरेगा योजना से मिला। क्वरैंटाइन सेंटरों की व्यवस्था चौदहवें वित्त की राशि से किया गया। राज्य सरकार पंचायतों को एक रुपए की भी मदद नहीं कर सकी। उन्होंने कहा कि यह सरकार दो वर्षों में चौतरफा विफल रही है। जनता का भरोसा इस सरकार से उठ चुका है।

मुंगेली प्रवास पर आए सांसद अरुण साव ने बुधवार को मुंगेली तहसील के कोदवाबानी व दाऊपारा धान खरीदी केन्द्र का औचक निरीक्षण किया। कोदवाबानी में बारदाने की कमी के कारण आज धान खरीदी बंद थी। केन्द्र में मौजूद स्टाफ से सवालों का सटीक जवाब नहीं मिलने पर सांसद साव भड़क गए। उन्होंने स्पष्ट कहा कि ‘किसानों को परेशान करने के लिए आप लोगों को सरकार तनख्वाह नहीं दे रही। किसानों की सुविधा, बिना किसी परेशानी के उनका धान खरीदने यहाँ बिठाया गया है। बारदाने की अग्रिम व्यवस्था रखें, ताकि किसी भी सूरत में धान खरीदी बंद ना हो। दाऊपारा धान खरीदी केन्द्र में किसानों ने डिजिटल तौल मशीन की व्यवस्था कराने की मांग की।

सांसद साव ने बुधवार को मुंगेली तहसील के ग्राम कोहड़िया में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत् प्रस्तावित कार्यों की समीक्षा भी की। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोहड़िया की प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम के रूप में अलग पहचान बनानी है। विधायक एवं पूर्व मंत्री पुन्नुलाल मोहले ने कहा कि इस योजना के तहत गांव के चहुँमुखी विकास हेतु केन्द्र की मोदी सरकार ने 40 लाख से अधिक रुपए की स्वीकृति दी है। इस राशि से गांव की तस्वीर बदल जाएगी। इस मौके पर पर ग्रामवासियों ने मुक्तिधाम में बाऊण्ड्रीवाल निर्माण, प्राइमरी व मिडिल स्कूल भवन के जीर्णोद्धार कराने, स्कूल पहुंच मार्ग तक सीसी रोड निर्माण, नवीन तालाब निर्माण, उप स्वास्थ्य केन्द्र की स्थापना कराने की मांग की। इस मौके पर जिला पंचायत की सीईओ श्रीमती नुपुर, एडिशनल सीईओ हूरा, जनपद सीईओ, नायब तहसीलदार जायसवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष शैलेश पाठक, संतुलाल सोनकर, शिवकुमार बंजारे, मानस बैस, दीनानाथ केशरवानी, दक्षेन्द्र गोस्वामी, उमा शंकर साहू, रामशरण यादव, सौरभ बाजपेयी आदि उपस्थित थे।

Check Also

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की बड़ी घोषणा : पत्रकारों, वकीलों तथा उनके परिजनों को भी फ्रंट लाईन वर्कर के समान टीकाकरण में मिलेगी प्राथमिकता …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण …

error: Content is protected !!