मध्य प्रदेश

झाबुआ के चंद्रशेखर आजाद नगर में दहाड़े मुख्यमंत्री शिवराज बोले- गुंडे-माफिया को दफन करना ही पड़ेगा, ऐसे लोगों को फांसी होनी चाहिए …

भोपाल। जनहितकारी योजनाओं में अधिकारियों-कर्मचारियों पर सख्ती के बाद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने अब गुंडे-माफियाओं को चेतावनी दी है। वे शनिवार को झाबुआ जिले के चंद्रशेखर आजाद नगर में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार सज्जन के लिए फूल से ज्यादा कोमल है, मगर गुंडे-माफिया के लिए वज्र से भी ज्यादा कठोर है। ऐसे लोगों को तो दफन करना ही पड़ेगा। अभी इंदौर में 7 साल की बच्ची के साथ घटना हुई। मैंने आज ही मीटिंग लेकर कहा है कि ऐसे लोगों को फांसी की सजा होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान हेलिकाप्टर से चंद्रशेखर आजाद नगर के समीप ग्राम झोतराड़ा में बनाए गए हेलिपेड पर उतरे। इसके बाद आजाद नगर पहुंचकर अमर शहीद के स्मारक पर नमन करने के बाद उन्होंने सभा स्थल पहुंचे। नगर परिषद चुनाव में भाजपा समर्थित पार्षद प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि बेटियां बोझ नहीं वरदान हैं। हमने लाड़ली लक्ष्मी योजना शुरू की। अब वो बेटियां बड़ी हो गई हैं। बड़ी होने पर बेटियों को 1.18 लाख रुपये दिए जाएंगे। आगे कालेज की पढ़ाई के लिए भी एडमिशन के समय साढ़े 12 हजार और डिग्री लेने पर साढ़े 12 हजार दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मेडिकल व इंजीनियरिंग कालेज में प्रवेश लेने पर कई अभिभावक फीस नहीं भर पाते। ऐसे बच्चों की फीस भी मामा भरेगा। रोजगार के लिए 18 हजार शिक्षकों की भर्ती की जा रही है। प्रदेश में एक साल में एक लाख भर्तियां की जाएंगी। स्वरोजगार की भी अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं। स्वरोजगार के लिए बैंक से कर्ज लेने पर गारंटी मामा देगा। उसकी चिंता करने की भी कोई जरूरत नहीं है। आयुष्मान योजना के तहत इलाज के लिए कार्ड बनाए जा रहे हैं, जिनके कार्ड नहीं बने, चुनाव के बाद यहां शिविर लगाकर कार्ड बनाए जाएंगे।

सीएम ने कहा, मुफ्त राशन के लिए पीएम गरीब कल्याण योजना और प्रदेश में अन्नपूर्णा योजना चल रही है। उन्होंने मंच से ही पूछा कि राशन मिल रहा है कि नहीं। कहा, अगर किसी को राशन नहीं मिल रहा तो बताएं, गड़बड़ी करने वालों को छोड़ूंगा नहीं।

झाबुआ जिले में सीएम के दौरे के बाद प्रशासनिक मशीनरी निशाने पर रही थी। वहां के कलेक्टर, एसपी के साथ ही कुछ अन्य अफसरों को भी हटा दिया गया। प्रदेश भर में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के शिविरों में सीएम के तल्ख तेवर देखने को मिल रहे हैं। कोई भी गलती पर तुरंत एक्शन लिया जा रहा है। इसे देखते हुए पूरे प्रदेश में जिले के शीर्ष अधिकारियों से लेकर मैदानी कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है, अधिकांश जगह उनमें मुस्तैदी देखी जा रही है।

रविवार को मुख्यमंत्री दोपहर तीन बजे आलीराजपुर जाएंगे। खेल परिसर में बनाए गए हेलिपेड से वे बस स्टैंड पहुंचेंगे, जहां चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। यहां से 4.30 बजे वे खेल परिसर जाएंगे, जहां से हेलिकाप्टर से वापस प्रस्थान करेंगे।

Related Articles

Back to top button