मध्य प्रदेश

पन्ना की हीरा खदान में फिर शुरू होगी खुदाई, सुप्रीम कोर्ट के फैसले से मिलेगा 10 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार

एक साल से बंद पड़ा था एनएमडीसी की मझगंवा हीरा खदान में खनन का काम

भोपाल। टाइगर रिजर्व के नियमों के चलते एक साल से भी ज्यादा समय से बंद पड़ी मझगंवा स्थित एनएमडीसी की हीरा खदान में शीघ्र ही खनन कार्य शुरू होगा। मध्यप्रदेश स्थित एशिया की एकमात्र हीरा खनन परियोजना पन्ना की एनएमडीसी में सुप्रीम कोर्ट ने फिर से खनन की हरी झंडी दे दी है। खनन कार्य फिर से शुरू होने से हजारों लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है. बाघों की सुरक्षा के सभी पहलुओं पर विचार करने के बाद सरकार से यहां खनन की क्लीयरेंस मिलने के बाद प्रदेश के खनिज विभाग ने सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखा था। इस पर कोर्ट ने हीरा खनन फिर से शुरू करने की मंजूरी दे दी।

यह जानकारी प्रदेश के खनिज मंत्री बृजेंद्र सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि 10 हजार से ज्यादा लोग प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर एनएमडीसी हीरा खदान से रोजगार पा रहे थे। अब यहां फिर से कार्य शुरू होने से उन्हें फिर से रोजगार मिल सकेगा और राज्य सरकार को भी राजस्व के तौर पर बड़ी रकम मिलेगी। ज्ञात हो कि मप्र खनिज विकास निगम यहां स्कूल, अस्पताल, परिवहन और अन्य सामाजिक सरोकार के कार्य अपने वेलफेयर फंड से करती रहती है। पन्ना टाइगर रिजर्व प्रबंधन से जनवरी 2020 में अनुबंध समाप्त होने के बाद यहां 1 जनवरी से खनन कार्य बंद कर दिया गया था। वहीं, सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से एनएमडीसी प्रबंधन बेहद खुश है। प्रबंधन अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी व्यक्त की।

Related Articles

Back to top button