मध्य प्रदेश

ई-फास्टिंग: पर्युषण पर्व के चलते एमपी के रायसेन में जैन समाज की अनोखी पहल, एक दिन के लिए मोबाइल-टीवी जैसे गैजेट से बनाई दूरी ….

भोपाल। मध्यप्रदेश के रायसेन जिले के बेगमगंज से एक ऐसी खबर आई है, जिसने हर कोई का ध्यान अपनी ओर खींचा है। यहां के जैन समाज ने एक अनोखी पहल करते हुए पर्युषण पर्व पर अनोखे उपवास की शुरुआत की। इसे इंटरनेट मुक्त या डिजिटल फास्टिंग का नाम दिया गया है। इसके तहत 600 लोगों ने यहां अपने मोबाइल जमा करा दिए। ये 24 घंटे इनसे दूर रहेंगे। जबकि 400 लोग ऐसे हैं, जिन्होंने 10 दिन के लिए अपने मोबाइल जमा कराकर डिजिटल फॉस्टिंग का संकल्प लिया है।

बेगमगंज जैन समाज के अध्यक्ष अक्षय जैन ने इस पहल की जानकारी देते हुए बताया कि पर्युषण पर्व में आचार्यश्री विद्यासागर महाराज ने लोगों से कुछ दिन मोबाइल और इंटरनेट से पूरी तरह दूर रहने की बात की थी। प्रवचन में मुनिश्री श्रीश्री तमसा सागर महाराज ने भी इस बात को दोहराई थी। इसीके चलते बुधवार को 1000 लोगों ने मंदिर में मोबाइल जमा कराए है। इसमें 100 बच्चे और 300 से ज्यादा महिलाएं है। 600 लोग 24 घंटे और बाकी लोग 10 दिन मोबाइल और इंटरनेट, टीवी से पूरी तरह दूर रहेंगे।

मोबाइल का सेहत पर पड़ता है गहरा असर: मुनिश्री

मुनिश्री श्रीश्री तमसा सागर महाराज का कहना है कि मोबाइल उपयोग करने वाले के चेहरे, मन आंखों पर गहरा असर डालता है। इससे स्वास्थ्य में गिरावट आती है। मोबाइल साधन है, इसका उपयोग सीमित करें तो बेहतर है। लोग 24 घंटे इसमें लगे रहें तो यह समस्या का कारण बनती है। इस बार पर्व में सभी श्रद्धालुओं से एक दिन के लिए मोबाइल का त्याग किया।

बिना मोबाइल के नहीं चलता कारोबार, फिर भी 10 दिन की ई फास्टिंग

बेगमगंज के ओटो पार्ट्स व्यापारी तपस जैन ने बताया कि उनका कारोबार बिना मोबाइल के नहीं चलता है। गुरुवर आचार्यश्री के आह्वान पर और मुनिश्री की प्रेरणा से वे 10 दिन की ई-फास्टिंग कर रहे हैं। समाज के कुछ तो ऐसे हैं, जिनके परिवार के सभी सदस्य 10 दिन की ई-फास्टिंग कर रहे हैं। इस दौरान वे सभी लोग मोबाइल, कंप्यूटर और इंटरनेट से दूर रहेंगे।

Related Articles

Back to top button