मध्य प्रदेश

जोरदार बारिश से पूरा बड़ौदा टापू बन गया, अस्पताल, थाना परिसर से लेकर लोगों के घरों में 4 फीट तक पानी भरा

श्योपुर, बड़ौदा, सोंईकलां
जिले में दो दिन तक हुई झमाझम बारिश ने चारों-तरफ पानी-पानी कर दिया। बड़ौदा में तो बाढ़ जैसे हालात हो गए। पूरा बड़ौदा टापू बन गया। अस्पताल, थाना परिसर से लेकर लोगों के घरों में 4 फीट तक पानी भर गया। ऐसे हालातों में लाेगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित बाहर निकाला गया। बड़ौदा में 40 करीब छात्र-छात्राएं ऐसे थे जिनकी कॉलेज परीक्षा थी। उन्‍हें एसडीआरएफ टीम व जनप्रतिनिधियों ने रेस्क्यू कर निकाला और परीक्षा देने काॅलेज पहुंचाया।

कलेक्‍टर के साथ पहुंचे अन्‍य अधिकारी
मानपुर में अस्पताल अस्पताल के रास्ते पर पानी भरने से तीन गर्भवती महिलाओं को रेस्क्यू कर निकाला गया। पार्वती नदी का जलस्तर बढ़ने से खातौली पुलिया से चार फीट से ऊपर पानी जा रहा था, जिस वजह से श्योपुर का कोटा से दिनभर संर्पक कटा रहा। बड़ौदा में बारिश से हालात बिगड़ने की जानकारी मिलते ही कलेक्टर लोकेश कुमार जांगिड़, एसपी अभिषेक आनंद मौके पर पहुंच गए और पल-पल का अपडेट लेकर हालातों पर नजर रखे रहे।

पांच घंटे में चारों-तरफ पानी ही पानी
बता दें कि गुरुवार रात 9 बजे से शहर में शहर में झमाझम बारिश हो रही थी। शनिवार की रात 10 बजे से इतनी तेज बारिश शुरू हुई कि पांच घंटे में चारों-तरफ पानी ही पानी हो गया। शहर में अमराल नदी में अचानक पानी बढ़ने से गुप्तेश्वर महादेव मंदिर पर पूजा करने गए मंदिर के पुजारी बाढ़ में फंस गए। एसडीआरएफ टीम ने सड़क पर नाव चलाकर रेस्क्यू कर पुजारी को सुरक्षित बाहर निकाला।

बड़ौदा में सबसे ज्‍यादा हालत खराब
बारिश से सबसे ज्यादा बाढ़ के हालात बड़ौदा में हुए। यहां 24 में घंटे हुई बारिश से सड़कों, घरों, स्कूलों, थाना और अस्पताल में पानी भर गया। 3 अगस्त 2021 को आई बाढ़ त्रासदी का याद कर लोग डर के मारे रातभर घरों की छतों पर बैठे रहे। बड़ौदा के बाजार में चार फीट तक पानी भर गया है। इससे दुकानों रखा सामान भीग गया।

सामान हटाने का समय ही नहीं मिला
दुकानदारों को सामान खाली करने का समय भी नहीं मिला। घरों में पानी भरने से कई लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया। बड़ौदा में बड़ौदा-बारां हाइवे पर थाने के सामने पानी के बहाव से रोड कट जाने की वजह से आवागमन बाधित रहा। ऐसी स्थिति में वाहन चालकों को बस स्टैंड होकर गुजरना पड़ा। लोगों को बाढ़ से बचाने के लिए नगरपालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि राजू सुमन, नायब तहसीलदार मनीषा मिश्रा, आरआइ दिव्यराज धाकड़, पटवारी विनोद भूषण सहित स्थानीय लोगों ने काफी मेहनत की।

38 छात्र-छात्राओं को रेस्क्यू कर पहुंचाया परीक्षा देने
पिछले दो दिन से हो रही बारिश के कारण बड़ौदा नगर में चारो तरफ पानी भर गया। चारों तरफ से निकलने के रास्ते बंद हो गए। ऐसे में 38 छात्र-छात्राएं ऐसे थे, जिनका आज सुबह 9 बजे से काॅलेज का पेपर था। चारों तरफ पानी भरने से छात्र-छात्राएं फंस गए। कलेक्टर के निर्देश पर एसडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू कर निकाला। इसके अलावा नगरपरिषद अध्यक्ष जनप्रनिधि सहित स्थानीय लोगों ने ट्रैक्टर की मदद से रेस्क्यू आपरेशन चलाकर छात्र-छात्राओं को परीक्षा देने के लिए काॅलेज पहुंचाया। रेस्क्यू कर कुल 38 छात्र-छात्राओं काे बाहर निकाला गया।

 

Back to top button