Breaking News

ऑनलाइन कक्षा एवं मोहल्ला क्लास, मिस्ड कॉल गुरुजी संचालित करने वालों को छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग ने किया सम्मानित …

बिलासपुर। शिक्षक दिवस के पावन अवसर पर स्कूल शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कोरोना महामारी में भी बच्चो की पढ़ाई जारी रखने और राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना पढ़ई तुंहर दुआर योजना को कामयाब बनाने में विशेष योगदान देने वाले शिक्षकों को ई-सर्टिफिकेट के माध्यम से प्रशस्ति पत्र जारी कर सम्मानित किया गया।

बिलासपुर जिले के मस्तूरी विकासखंड के अंतिम छोर में बसे खम्हरिया संकुल के उन्नत प्राथमिक शाला धनुहारपारा कुकदा के शिक्षक चरण दास महंत एवं श्रीमती चन्द्रिका मिरी को उनके योगदान और योजना के बेहतरीन संचालन के लिए स्कूल शिक्षा विभाग की तरफ से प्रशस्ति पत्र जारी कर सम्मानित किया गया। चरण दास महंत मस्तूरी विकासखंड के अलावा जिले और राज्य में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है।

सीजीस्कूल में ब्लॉग लेखक के रूप में चरण दास महंत के 12 ब्लॉग अब तक प्रकाशित हो चुके है। ब्लॉक और जिले में इस योजना के प्रचार प्रसार में चरण दास महंत यूट्यूब के द्वारा सक्रिय सहभागिता निभा रहे है। इनके द्वारा शिक्षको को किसी भी तरह से आ रही तकनीकी समस्या का त्वरित समाधान किया जाता है। पहले ऑनलाइन वर्चुअल क्लास और अब मोहल्ला क्लास का सफलतापूर्वक संचालन कर चरण दास महंत एवं श्रीमती चन्द्रिका मिरी ने यह साबित कर दिया कि एक शिक्षक चाहे तो विपरीत परिस्थिति में भी अच्छा काम कर सकता है।

चरण दास महंत ने बताया कि उन्हें राज्य से सुदीश सर, पूरे ब्लॉग राइटर टीम और जिले से सभी अधिकारियों का भरपूर सहयोग मिलता रहा है। स्टेट लेवल पर चरण दास महंत को चार प्रशस्ति पत्र एवं श्रीमती चन्द्रिका मिरी को दो प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किए जाने पर अश्वनी भारद्वाज BEO मस्तूरी, शिवराम टंडन ABEO, भागवत साहू BRCC मस्तूरी, बसंत जायसवाल CAC खम्हरिया सहित सभी शिक्षक साथियो और शुभचिंतकों ने उन्हें बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना किये है।

error: Content is protected !!