Breaking News

सावधान! अब जवान और बच्चों पर है कोरोना की बुरी नजर, संक्रमित करने की ताकत भी बढ़ी …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या अभूतपूर्व रफ्तार से बढ़ रही है और पहली बार 24 घंटे में 1.15 लाख लोग वायरस की चपेट में आए हैं। कोरोना की इस रफ्तार और बदले स्वरूप ने विशेषज्ञों की चिंता बढ़ा दी है। उनका कहना है कि मौजूदा लहर पहले के मुकाबले अधिक संक्रामक है। दूसरी तरफ इसने बच्चों और नौजवानों को भी पहले से अधिक चपेट में लेना शुरू कर दिया है।

दिल्ली के बड़े अस्पताल लोक नारायण हॉस्पिटल के एमडी डॉ. सुरेश कुमार का कहना है कि उनके अस्पताल में कोरोना मरीजों की संख्या पिछले एक सप्ताह में कई गुना बढ़ गई है। वह कहते हैं कि कोविड-19 मरीजों के लिए बिस्तरों की मांग बढ़ गई है और मौजूदा लहर अधिक जानलेवा भी हो सकती है।

डॉक्टर कुमार ने कहा, ”कोरोना की मौजूदा लहर पिछले साल के मुकाबले अधिक तेजी से फैल रही है। पिछले सप्ताह हमारे अस्पताल में 20 मरीज भर्ती थे। आज 170 मरीज हैं। बेड की डिमांड भी बढ़ रही है।” डॉक्टर के मुताबिक, डराने वाली बात यह है कि इस लहर में संक्रमित होने वालों में युवाओं, बच्चों और गर्भवती महिलाओं की संख्या बढ़ गई है।

उन्होंने कहा, ”हमने नोटिस किया है कि पहले संक्रमित मरीजों में अधिक उम्र के लोगों की हिस्सेदारी अधिक थी। अब अधिकतर मरीज युवा, बच्चे और गर्भवती महिलाएं हैं।” डॉक्टर ने कहा कि अस्पताल में सभी तरह के प्रबंध किए गए हैं ताकि संक्रमित मरीजों का इलाज हो सके। डॉ. सुरेश कुमार ने यह भी कहा कि लोक नारायण अस्पताल ओपीडी सर्विस बंद करने पर अभी विचार नहीं कर रहा है।

error: Content is protected !!