मध्य प्रदेश

इंदौर से खंडवा जा रही बस पलटी, 3 की मौत, 47 घायल,  हादसे में एक यात्री का हाथ धड़ से अलग हुआ

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर से खंडवा जा रही एक निजी बस के पलटने से 3 लोगों की मौत हो गई। इसमें दो पुरुष और एक महिला शामिल हैं। वहीं 47 लोग घायल हो गए। इनमें से 12 यात्री गंभीर घायल हैं, जिन्हें इंदौर रेफर किया है। एक यात्री का तो हाथ धड़ से अलग ही हो गया। खरगोन जिले के बड़वाह में यह हादसा ओवरटेक करने के दौरान हुआ। अंधी गति से चल रही बस बेकाबू हो गई और तीन पलटियां खाते हुए झाड़ियों में फंस गई। शासन की ओर से मृतकों को 4-4 लाख का मुआवजा देने की घोषणा की गई है।

पुलिस के अनुसार हादसा बड़वाह से करीब 7 किमी दूर सुबह करीब साढ़े 11 बजे बागफल और मनिहार के बीच हुआ। बताया जाता है 38 सीटर बस में लगभग 50 यात्री सवार थे। वहीं, यात्रियों के अनुसार बस का ड्राइवर शराब पिया हुआ था और तेज गति से बस चला रहा था। यात्रियों ने उसे कई बार धीमे चलाने के लिए कहा। बस दो बार सड़क से नीचे भी उतरी। इसके बाद ड्राइवर ने आगे जा रही एक कार को ओवरटेक किया। इसमें बस का एक पहिया रोड से नीचे उतर गया। ड्राइवर ने बस को वापस रोड पर चढ़ाने की कोशिश, लेकिन वह नियंत्रण खो बैठा। बस वापस रोड पर नहीं चढ़ी और तेज स्पीड के कारण तीन पलटियां खाते हुए झाड़ियों में पलट गई। हादसे में देवास की रहने वाली निर्मला (45 वर्ष) पति राजेश मेहर और इंदौर के रवि (30 वर्ष) पिता राजाराम गाठिया और श्रवण पिता राधेश्याम की मौत हो गई। हादसे में घायल 35 यात्रियों को बड़वाह के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रविवार को छुट्‌टी का दिन होने से अस्पताल में स्टाफ की कमी के चलते घायलों का इलाज करने में परेशानी आ रही। स्थिति को देखते हुए डॉक्टर, स्टाफ नर्स, ड्रेसर और कंपाउंडर को अस्पताल बुलाया गया, तब कहीं जाकर घायलों का समुचित इलाज शुरू हुआ। स्वयंसेवकों की सूचना पर शहर के तीन अस्पतालों के डॉक्टर अपने स्टाफ के साथ सरकारी अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों का उपचार किया।

कलेक्टर बोले- ओवर स्पीडिंग के खिलाफ चलेगा अभियान

सूचना मिलने पर बड़वाह सिविल अस्पताल पहुंचे खरगोन कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने कहा कि बेहद दुखद घटना हुई। तीन लोगों की मौत हुई है। मृतकों को शासन के नियमानुसार 4 लाख का मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि 4 दिन में 3 बस दुर्घटनाएं हुई हैं। जिले में अब ओवर स्पीडिंग करने वाले बस चालकों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई होगी। आज हुई दुर्घटना में भी बस के परमिट को लेकर इंदौर आरटीओ से चर्चा की जाएगी। स्कूल बसों में भी स्पीड गवर्नर लगवाने और उनका पालन सख्ती से कराया जाएगा।

शौर्य यात्रा बीच में छोड़कर मदद करने पहुंचे स्वयंसेवक

बड़वाह में रविवार दोपहर एक बजे से विहिप-बजरंग दल की शौर्य यात्रा निकाली जानी थी। इसके लिए स्वयंसेवक मैदान में जुट रहे थे। जैसे ही उन्हें दुर्घटना की सूचना मिली तो सभी यात्रा छोड़कर अस्पताल पहुंच गए और घायलों की मदद की। कुछ स्वयंसेवक मौके पर भी पहुंचे। वे घायलों को अस्पताल ले गए। हादसे पर सीएम शिवराज सिंह एवं पूर्व सीएम कमलनाथ ने दु:ख जताया है।

 

Related Articles

Back to top button