मध्य प्रदेश

बड़ा फैसला- रेलवे ने एक साथ रद्द कीं करीब पांच दर्जन ट्रेन, 17 के बदले रूट, भोपाल से जाने वाली 43 ट्रेनें रद्द

भोपाल. दिवाली और छठ पूजन जैसे बड़े त्यौहारों के बाद भी ट्रेनों में भीड़ खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. सभी ट्रेनों में अभी भी लंबी वेटिंग चल रही है. ट्रेनों में हो रही इस भीड़भाड़ का कारण शादियों का सीजन शुरू हो जाना बताया जा रहा है। ऐसे में यात्रियों को अधिक सुविधाएं देने की बजाय रेलवे ने यात्रियों के समक्ष नई मुसीबत खड़ी कर दी है. रेलवे द्वारा रोज कई ट्रेनों को रद्द किया जा रहा है, कल से रेलवे ने एक साथ करीब पांच दर्जन ट्रेनों को या तो निरस्त कर दिया है या उनके रूट बदल दिए हैं. इससे यात्री काफी परेशान हो रहे हैं.

दरअसल, पश्चिम-मध्य रेलवे के जबलपुर और भोपाल मंडल के बीच रेल लाइनों की मरम्मत और अन्य काम चल रहे हैं. इस कारण ट्रेनों को या तो रद्द किया जा रहा है अथवा रूट बदलकर उनका संचालन किया जा रहा है. पश्चिम मध्य रेलवे के मालखेड़ी, महादेवखेड़ी स्टेशनों के मध्य रेल लाइन दोहरीकरण का काम हो रहा है। इसके लिए प्री नॉन, नॉन इंटरलॉकिंग का कार्य किया जा रहा है। इस कारण इस मार्ग से होकर गुजरने वाली 43 ट्रेनों को आगामी निरस्त कर दिया गया है।

रेलवे के अनुसार इस मार्ग से होकर गुजरने वाली इन 43 ट्रेनों को गुरुवार से रद्द किया गया है। इसके साथ ही 17 ट्रेन के रूट भी बदले गए हैं। ए 17 ट्रेन भी गुरूवार से ही बदले हुए रूट से चलाई जा रही हैं। इसके साथ ही रेलवे ने यात्रियों से एनटीइएस एवं पूछताछ सेवा पर जानकारी लेकर ही यात्रा शुरू करने की सलाह दी है. रेलवे अधिकारियों का कहना है कि यात्री किसी भी तरह की परेशानी से बचने के लिए रेलवे द्वारा अधिकृत रेलवे पूछताछ सेवा एनटीईएस 139 से गाड़ी की सही जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यात्री एनटीइएस एवं पूछताछ सेवा से रद्द की गई 43 ट्रेन और बदले गए रूट की 17 ट्रेनों की जानकारी ले सकते हैं.

Related Articles

Back to top button