Breaking News

डिजिटल इंडिया के मुहीम में पूरी तरह से जुड़ने जा रहा है, वाराणसी विकास प्राधिकरण …

वाराणसी। वाराणसी विकास प्राधिकरण अपनी को डिजिटलाइज करने जा रहा है। प्राधिकरण अब एक क्लिक पर आपके फ़ाइल का स्टेटस बातएंगी। और आपका काम चुटकियों में होगा।  प्राधिकरण के कर्मचारी आपको फाइलों में घुमा नहीं पाएगा। पुराने कागज़ा जो जर्जर हो चुके है उनको  सहेजना में भी आसानी होगी। वाराणसी विकास  प्राधिकरण डिजिटलाइज़ेशन ऑफ़ फाइल  का काम जुलाई से शुरू करेगा।

डिजिटल इंडिया की मुहिम में अब वाराणसी विकास प्राधिकरण भी पूरी तरह से जुड़ने जा रहा है। इस कार्यालय में अब  कर्मचारियों  को फाइलों के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। और न ही वे आपको भटका पाएंगे। वाराणसी विकास प्राधिकरण फाइल  का डिजिटलाईजेशन करने जा रहा है। मतलब अपने कागजों को डिज़िटल तरीके से रखेगा। जिससे अब आप का काम लटकेगा नहीं ,अटकेगा नहीं और नहीं आप को भटकना पड़ेगा। बस एक क्लिक पर आपके फ़ाइल का पूरा  स्टेटस  सामने होगा।

वाराणसी विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष ईशा दुहन ने बताया कि फ़ाइलों के डिजिटल हो जाने  से काम में सुविधा और सुगमता हो जाएगी। कार्यालय में बहुत से दस्तावेज़ दशकों पुराने है। जिसके फटने का डर बना रहता है। ऐसे कागज़ सुरक्षित हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि ये पूरा काम तीन स्टेप में होगा। पहले दस्तावेजों को स्कैन किया जाएगा। फिर उसे जेनरेट किया जाएगा। इसके बाद कार्यालय पूरी तरह से पेपरलेस हो जाएगा । वाराणसी विकास प्राधिकरण ई -ऑफिस की तरह काम करने लगेगा। कार्यालय के डिजिटल होने से आम जनता को सबसे ज़्यादा फ़ायदा  होगा। एक ही टेबल से उसके काम सम्बंधित सभी कागज़ात देखे जा सकते है।  एक क्लिक पर उसके फाइल का पूरा  ब्योरा  सामने आ जाएगा। जुलाई में  डिजिटलाईजेशन ऑफ़ फाइल्स का काम शरू होगा जो तक़रीबन छ महीने में पूरा हो जाएगा । कोरोना काल जैसे पेन्डमिक में भी ई-ऑफिस से संक्रमण में बचाव से मदद मिलेगा।

error: Content is protected !!