Breaking News
.

दिल्ली के जहांगीरपुरी में फिर बिगड़े हालात, सोनू शेख की पत्नी से पुलिसिया पूछताछ के दौरान फिर पत्थरबाजी …

नई दिल्ली । कथित रूप से मस्जिद पर भगवा झंडा फहराने को लेकर हुए दो पक्षों के विवाद में गिरफ्तार सोनू शेख की पत्नी से पूछताछ करने पहुंची पुलिस के दौरान एक बार फिर से हालात बिगड़ गए। राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी में सोमवार को एक बार फिर पथराव की घटना देखने को मिली। बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस द्वारा एक महिला को पूछताछ के लिए ले जाने के दौरान यह पथराव किया गया। हालात को देखते हुए इलाके में रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के साथ ही भारी पुलिस बल तैनात है।

बताया जा रहा है कि पुलिस सोमवार को जहांगीरपुरी हिंसा के दौरान फायरिंग करता दिखे सोनू शेख की पत्नी से पूछताछ के लिए पहुंची थी, तभी अचानक वहां जमा हुई भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया।

जानकारी के अनुसार, जहांगीरपुरी इलाके में सोमवार दोपहर एक बार फिर पथराव की घटना सामने आई। इस बार पुलिस कार्रवाई के विरोध में कुछ लोगों ने पथराव का प्रयास किया। हालांकि, इलाके में भारी संख्या में मौजूद पुलिस बल ने लोगों को काबू कर लिया और पथराव के बावजूद भी पुलिस टीम उस महिला को पूछताछ के लिए अपने साथ ले गई, जिसके पति सोनू शेख पर गोली चलाने का आरोप है। दरअसल, वह एक वीडियो में गोली चलाते हुए दिखाई दे रहा है।

जहांगीरपुरी के सी ब्लॉक निवासी आरोपी  सोनू शेख घटना के बाद से ही फरार है। लिहाजा पुलिस टीम उसकी पत्नी को पूछताछ के लिए अपने साथ ले जाने के लिए उसके घर पहुंची थी, लेकिन सोनू की पत्नी और उसके कुछ करीबी लोगों ने पहले तो इसका विरोध किया और फिर पुलिस पर पथराव करने की भी कोशिश की।

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की उसकी तलाश में उसके करीबी नेटवर्क के लोगों से पूछताछ कर उसके संभावित ठिकानों के बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।

डीसीपी ने बताया कि सोशल मीडिया में 17/04/22 को एक वीडियो वायरल हो रहा था जिसमें 16/04/22 को जहांगीरपुरी इलाके में दंगे के दौरान (नीले कुर्ते में) एक व्यक्ति को गोली चलाते हुए दिखाया गया था। उत्तर-पश्चिम जिले की पुलिस टीम आरोपी के घर की तलाशी लेने और उसके परिजनों से पूछताछ के लिए गई थी। इसकी जवाबी कार्रवाई में आरोपी के परिजनों ने पुलिस पर दो पत्थर फेंक दिए। इस मामले में कानूनी कार्रवाई की जा रही है। एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है और स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।

गौरतलब है कि जहांगीरपुरी में शनिवार को हनुमान जयंती के दिन निकाली गई शोभायात्रा पर पथराव के बाद दो समुदायों में हिंसा भड़क गई थी। इसमें जमकर तोड़फोड़ करने के साथ ही कुछ वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया था। इस हिंसा में एक सब-इंस्पेक्टर को गोली लगने के साथ ही कुल 9 लोग घायल हो गए थे, जिनमें से 8 पुलिसकर्मी हैं। इस घटना की जांच के लिए अब स्थानीय पुलिस के साथ ही क्राइम ब्रांच को भी लगा दिया गया है। 

error: Content is protected !!