Breaking News
.

जाते-जाते रवि शास्त्री ने बोर्ड को चेताया, कहा-डॉन ब्रैडमैन भी अगर बॉयो-बबल में खेलते तो उनका भी औसत नीचे आ जाता…

नई दिल्ली। रवि शास्त्री का हेड कोच के रूप में कार्यकाल समाप्त हो गया है। उन्होंने कोच के रूप में अपनी आखिरी प्रेस कॉफ्रेंस में इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल और अन्य क्रिकेट बोर्ड्स को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि अगर डॉन ब्रैडमैन को भी लंबे वक्त तक बॉयो बबल में रहना पड़ता तो उनका बल्लेबाजी औसत भी नीचे आ जाता है। मालूम हो कि आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 समाप्त होते ही रवि शास्त्री का हेड कोच के रूप में कार्यकाल खत्म हो गया है।

शास्त्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में याद दिलाया कि कहा कि भारतीय टीम करीब छह महीने से बॉयो बबल में रह रही है। शास्त्री ने कहा, ‘मैं एक चीज कहना चाहूंगा। इस टूर्नामेंट में हमें जैसा होना चाहिए वैसा स्विच ऑन नहीं रहा। यह कोई बहाना नहीं है, लेकिन जब आप 6 महीने बॉयो बबल में रहते हैं…। इस टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो तीनों फॉर्मेट खेलते हैं। पिछले 2 साल से वे अपने घर पर मुश्किल से 25 दिन ही रहे हैं। हमें अगर आईपीएल और टी20 वर्ल्ड कप के बीच में कुछ समय मिला होता तो सही रहता।’

उन्होंने कहा, ‘मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन हैं। आपका नाम डॉन ब्रैडमैन ही क्यों न हो, आपका बल्लेबाजी औसत कम हो जाएगा। जो लोग खेल रहे हैं वे सभी इंसान हैं। वे लोग पेट्रोल पर नहीं चलते हैं। ऐसा नहीं कि आपने गाड़ी में तेल डाला और उसे चलाने लग गए।’ मानसिक और शारीरिक थकान पर खुलकर बोलते हुए शास्त्री ने कहा, ‘मेरे दिमाग में सबसे पहले आराम की बात आती है। मैं मानसिक रूप से थका हुआ हूं। हालांकि, मैं अपनी उम्र में ऐसा होने की उम्मीद करता हूं। लेकिन ये खिलाड़ी मानसिक और शारीरिक रूप से थके हुए हैं।’

उन्होंने कहा, ‘अगर आने वाले कुछ समय में मानसिक थकान को लेकर आईसीसी और दुनिया भर के क्रिकेट बोर्ड्स ने कुछ नहीं किया तो खेल पर इसका बहुत गलत असर पड़ सकता है। उस स्थिति में खिलाड़ी इंटरनेशनल कमिटमेंट्स से पीछे हट सकते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘हम हार स्वीकार करते हैं। हम हारने से नहीं डरते। जीतने का कोशिश करते हुए आप मैच हार सकते हैं, लेकिन यहां हमने जीतने का कोशिश नहीं की, क्योंकि हमें एक्स फैक्टर (क्योंकि खिलाड़ी मानसिक और शारीरिक रूप से थके हुए थे) की कमी खल रही थी।’

रवि शास्त्री ने बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन को उन्हें भारत के कोच का मौका देने के लिए धन्यवाद दिया। साथ ही संकेत दिए कि उनका भविष्य फिर से टीवी कॉमेंट्री में हो सकता है, जहां उन्होंने कोचिंग में आने से पहले अपना काफी नाम कमाया था। उन्होंने शानदार आक्रमण के लिए निवर्तमान गेंदबाजी कोच भरत अरुण और टीम के क्षेत्ररक्षण मानक को विश्व स्तरीय बनाने के लिए निवर्तमान क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर को भी धन्यवाद दिया।

रवि शास्त्री का मानना है कि राहुल द्रविड़ के लिए सबसे अच्छी बात यह होगी कि उनके पास एक विश्वस्तरीय टीम होगी, जो बदलाव के दौर से गुजरने से कम से कम 4 साल दूर है। टीम इंडिया के अगले हेड कोच राहुल द्रविड़ हैं।

रवि शास्त्री ने कहा, ‘बेशक राहुल द्रविड़ के रूप में हमारे पास ऐसा व्यक्ति है, जिसे विरासत में शानदार टीम मिलेगी। इसके बावजूद वह अपने स्तर और अनुभव के साथ आने वाले समय में इस स्तर को और बेहतर ही करेंगे।’ द्रविड़ के कार्यकाल की शुरुआत न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सरजमीं पर टी20 और टेस्ट सीरीज के साथ होगी।

error: Content is protected !!