लखनऊ/उत्तरप्रदेश

दुल्हन के घर बच्चे के साथ बैठी मिली पत्नी, बारात लेकर पहुंचे दूल्हेराजा की स्वागत की जगह हो गई धुनाई ….

गोरखपुर । उत्तर प्रदेश में आए दिन दंगा फसाद होते ही रहता है। इसी बीच यहां एक नया फसाद सामने आया। यहां दुल्हन लेने घोड़ में बैठकर पहुंचे दूल्हे की फूल मालाओं की बजाए सरसों तेल चुपड़ कर रखे गए मोटे मोटे डंडो से खूब खातिरदारी की गई। जब दूल्हें ने कहा कि अब बस बहुत हो गया, तब जाकर माने बाराती और पुलिस बुलाकर बिना दुल्हन ही छोड़ दिया। मामला समझने के बाद यूपी की पुलिस का भी सर चकरा गया।

गोरखपुर के एक गांव में शादी रचाने पहुंचे दूल्‍हेराजा को बहुत बुरी स्थिति का सामना करना पड़ा। दूल्‍हेराजा ने सबको अंधेरे में रखकर पहली पत्‍नी के रहते हुए ही दूसरी बार अपनी शहनाई बजवाने का इंतजाम कर लिया था लेकिन यह इतना भारी पड़ जाएगा, ये नहीं सोचा था। दुल्‍हन के घर पहुंचते ही उनके होश उड़ गए। बारात जैसे ही दुल्‍हन के घर पहुंची, दूल्‍हेराजा की नज़र बाहर इंतजार में बैठी गुस्‍से से तपती अपनी पहली पत्‍नी पर पड़ी। पत्‍नी के साथ चार साल का बच्‍चा भी था। पत्‍नी और बच्‍चे पर नज़र पड़ते ही पोल खुलने के डर से वह भागने लगे लेकिन वहां बारात के स्‍वागत के लिए हाथ में फूलमाला लिए खड़े गांववालों ने उन्‍हें दौड़ाकर पकड़ लिया। पहले पूछताछ की फिर जमकर धुनाई कर दी। इसके बाद पुलिस बुलाकर उन्‍हें थाने भिजवा दिया। पुलिस के सामने पड़ते ही दूल्‍हेराजा माफी मांगने लगे लेकिन कई घंटे की पूछताछ के बाद आखिरकार उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई और उन्‍हें जेल की हवा खाने के लिए रवाना कर दिया गया।

मामला गोरखपुर के गुलरिहा थाना क्षेत्र का है। मिली जानकारी के अनुसार जिले के खोराबार थाना क्षेत्र के सूबाबाज़ार के रहने वाले बबलू की शादी एक साल पहले गुलरिहा थाना क्षेत्र के एक गांव में तय हुई थी। तय तारीख यानी पांच दिसम्बर की रात साढ़े आठ बजे लड़की के दरवाजे पर बारात पहुंची। बारातियों के स्वागत के लिए सैकड़ों की संख्या में घराती और अन्य रिश्तेदार मौजूद थे। उधर, एक महिला अपने चार वर्षीय बच्चे के साथ बैठ कर इंतज़ार कर रही थी। महिला को देख कर दूल्हा भागने लगा। बारात के स्वागत में पहुंचे घराति‍यों दूल्हे को भागते देखा तो दौड़ा कर पकड़ लिया। इसके बाद सबने मिलकर दूल्हे की खूब खातिरदारी कर दी। फिर पुलिस बुलाकर उसे सौंप दिया गया।

मौके पर पहुंची गुलरिहा पुलिस ने आरोपी दूल्हे को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। बच्चे के साथ मौके पर मौजूद महिला ने पुलिस को बताया कि लगभग पांच साल पहले उनकी शादी हुई थी। उनका चार साल का एक बच्चा भी है। महिला के मुताबिक जब उसे पता चला कि उसका पति दूसरी शादी कर रहा है तो वह यहां पहुंची ताकि उसका पति दूसरी शादी न कर सके। आरोपी दूल्हा पुलिस के सामने मांफी मांगने लगा।

उधर, दुल्हन बन कर बैठी पीड़ित लड़की की मां ने आरोप लगाया कि एक साल पहले आरोपी युवक ने झूठ बोल कर शादी तय की थी। शादी की तैयारी के साथ ही उसके परिवार के अब तक लगभग साढ़े पांच लाख रुपये से अधिक खर्च हो चुके हैं। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने विभिन्न धाराओं में केस दर्ज करते हुए आरोपी दूल्हे को गिरफ्तार कर लिया है। इस सम्बन्ध में प्रभारी निरीक्षक गुलरिहा चंद्रहास मिश्र ने बताया कि उसे जेल भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Related Articles

Back to top button