देश

सोनाली फोगाट के नाम पर सुधीर सांगवान चलाता था वसूली रैकेट, कृषि लोन के नाम पर ऐंठे पैसे …

चंडीगढ़। टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौत मामले नया खुलासा हुआ है। फोगाट का “करीबी” सुधीर सांगवान उनके नाम पर वसूली नेटवर्क चलाता था। सांगवान ने सोनाली और पुलिस के नाम पर कई लोगों के साथ धोखाधड़ी की। उसने कई लोगों से लोन के नाम पर पैसे ऐंठे हैं। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि सुधीर सांगवान ने क्रिएटिव एग्रिटेक नाम का एक फर्म बनाया था। इसके जरिए उसने कृषि लोन देकर लोगों के साथ धोखाधड़ी की। उसने बैंक से कम दर पर लोन लिए और जब लोगों ने अपने पैसे वापस मांगे तो उन्हें पुलिस के नाम पर धमकी देने लगा। वह फोगाट के नाम पर भी धमकाता था।

बता दें कि सोनाली फोगाट और उनके साथियों ने 22 और 23 अगस्त की दरम्यानी रात को गोवा के कर्लीज रेस्टोरेंट में पार्टी की थी। फोगाट को गोवा में आने के एक दिन बाद 23 अगस्त को उत्तरी गोवा जिले के एक अस्पताल में मृत लाया गया था। इस मामले में फोगाट के निजी सहायक सुधीर सांगवान, एक अन्य सहयोगी सुखविंदर सिंह, रेस्तरां के मालिक एडविन नून्स, कथित ड्रग तस्कर दत्ताप्रसाद गांवकर और रामदास मांड्रेकर को गिरफ्तार किया जा चुका है। उनके दो सहयोगियों सांगवान और सिंह पर गोवा पुलिस ने हत्या का आरोप लगाया है।

दूसरी तरफ, सोनाली फोगाट के घर वालों ने उनकी मौत की जांच को लेकर असंतोष जाहिर किया है। फोगाट फैमिली का कहना है कि वे गोवा पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं हैं। इस केस की जांच सीबीआई से होनी चाहिए। इसके लिए वे गोवा हाई कोर्ट से संपर्क करेंगे। फोगाट के परिवार वालों की यह मांग ऐसे वक्त सामने आई है जब गोवा पुलिस हिसार में बीते चार दिनों में जांच-पड़ताल में लगी हुई है। पुलिस ने कई अहम सबूत जुटाने का दावा किया है।

Related Articles

Back to top button