छत्तीसगढ़बिलासपुर

ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण सर्वोच्च प्राथमिकता से करें – कलेक्टर सारांश मित्तर

बिलासपुर ।  कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने आज राज्य सरकार की प्राथमिकता वाली सभी महत्वपूर्ण योजनाओं की गहन समीक्षा कर योजनाओं के सुचारू क्रियान्वयन के निर्देश समय-सीमा की बैठक में अधिकारियों को दिए।

उन्होंने नियमित तौर पर गांव का भ्रमण कर पेयजल, विद्युत, खाद्यान्न वितरण, स्वास्थ्य केंद्रों, स्कूलों तथा आंगनबाड़ी केंद्रों के संचालन की निगरानी करते हुए लोगों को मूलभूत सुविधा तथा गुणवत्तापूर्ण सेवा प्रदान करने कहा। कलेक्टर ने स्पष्ट तौर पर कहा कि गांव में मूलभूत सुविधाओं में कमी पाए जाने पर दोषी अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

मंथन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कलेक्टर ने 07 अप्रैल से 18 अप्रैल तक ग्राम पंचायतों में आयोजित शिविर की जानकारी नोडल अधिकारियों से ली। नोडल अधिकारियों ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षकों की अनियमितता, पेयजल, पेंशन जैसी समस्याएं आ रही है। कलेक्टर ने कहा कि किसानों और ग्रामीणों की बुनियादी दिक्कतों को दूर करना हमारा प्रमुख दायितव है।

ग्रामीणों की मूलभूत सुविधाओं में किसी भी प्रकार की कमी बर्दाशत नहीं की जाएगी। उन्होंने सभी एसडीएम को अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण कर योजनाओं की मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने पटवारी एवं पंचायत सचिवों की मुख्यालय में उपस्थिति पर जोर दिया। मुख्यालय में अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। 

Related Articles

Back to top button