नई दिल्ली

राजनीतिकार अन्ना हजारे ने शराब नीति पर उठाए सवाल, अरविंद केजरीवाल को पीछे नजर आई BJP …

नई दिल्ली। दिल्ली की शराब नीति को लेकर राजनीतिकार अन्ना हजारे ने दिल्ली के यशस्वी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेटर लिखा है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उनके (राजनीतिकार अन्ना हजारे) कंधे पर बंदूक रखकर चला रही है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि बीजेपी अरविंद केजरीवाल के कंधे पर बंदूक रखकर चला रही है। केजरीवाल ने मीडिया से बातचीत में कहा, ”वे (भाजपा) कहते रहे हैं कि शराब नीति में घोटाला हुआ है, लेकिन CBI ने कहा कि कोई घोटाला नहीं है। जनता इनकी बात नहीं मान रही है तो अब ये अन्ना हजारे जी के कांधे पर बंदूख रख के चला रहे हैं।”

अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा कि सीबीआई ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को अनौपचारिक रूप से क्लीन चिट दे दी है। केजरीवाल ने कहा, ”हमें किसी भी जांच के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। सीबीआई ने अपनी सारी जांच पूरी कर ली है। मनीष सिसोदिया से 14 घंटे तक पूछताछ की। उन्होंने उनके सवालों का संतोषजनक जवाब दिया। उनके लॉकर में कुछ नहीं मिला। उन्हें अनौपचारिक क्लीन चिट दे दी गई है।”

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेटर लिखकर उनकी सरकार की नई आबकारी नीति की निंदा की है और लिखा है कि मुख्यमंत्री ‘सत्ता के नशे में चूर लगते हैं’। हजारे ने यह भी कहा है कि एक ऐतिहासिक आंदोलन को नुकसान पहुंचाने के बाद जन्मी पार्टी अब दूसरे दलों के रास्ते पर है, जो पीड़ादायी है।

राजनीतिकार अन्ना हजारे ने कहा कि नई नीति से शराब की बिक्री और खपत को बढ़ावा मिलेगा और भ्रष्टाचार भी बढ़ेगा। हजारे ने महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में अपने गांव रालेगण सिद्धि में पूरी तरह शराब प्रतिबंध का हवाला देते हुए अपने पूर्व सहयोगी केजरीवाल को उनकी पुस्तक ‘स्वराज’ के बारे में याद दिलाया जिसमें शराब पर पाबंदी की वकालत की गई है।

Related Articles

Back to top button