छत्तीसगढ़रायपुर

बीजापुर-दंतेवाड़ा में माओवादियों का उत्पात, प्रधानमंत्री सड़क निर्माण में लगे 7 वाहनों को फूंका …

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर व दंतेवाड़ा जिले की सीमा पर माओवादियों ने जमकर उत्पात मचाया है। बारसूर क्षेत्र के मंगनार गांव में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के काम में लगे वाहनों को आग के हवाले कर दिया। माओवादियों ने 7 ट्रैक्टर को फूंका है। पूर्व बस्तर डिवीजन कमेटी ने इस आगजनी की घटना को अंजाम दिया है। बताया जाता है कि सौ से अधिक की संख्या में हथियारबंद नक्सली आए थे और निर्माण नहीं करने की चेतावनी देकर गए हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार की रात 8 बजे सौ से ज्यादा हथियारबंद माओवादी पहुंचे और हवा में अंधाधुंध फायरिंग की। नक्सली आधुनिक हथियारों से लैस थे। नक्सली मंगनार गांव पहुंचे और पंचायत भवन के पास खड़े हो गए। सड़क निर्माण में लगे ट्रैक्टरों के टैंकर को फोड़कर आग लगा दी और ठेकेदार को काम बंद करने कहा। नक्सलियों ने ‌गांव के सरपंच-सचिव को पूंजीपतियों से दूर रहने की भी चेतावनी दी है। माओवादियों ने एक बड़ा बैनर भी लगाया है, जिसमें सड़क निर्माण करने वाले ठेकेदार को चेतावनी दी गई है। घटना स्थल के लिए पुलिस पार्टी रवाना की गई है।

बैनर में नक्सलियों ने ग्रामीणों व सियानों (बुजुर्गों) से अपील की है कि ऐसे पूंजीपतियों व ठेकेदार से दूर रहे। घटना के संबंध में बीजापुर एएसपी पंकज शुक्ला से जानकारी चाही गई तो उनका कहना था कि यह हमारी जानकारी में नहीं है। बताया जाता है कि घटना बारसूर थाना अंतर्गत दंतेवाड़ा जिला में आता है। बीजापुर के कार्यपालन अभियंता बलराम ठाकुर ने बताया कि सड़क का काम ठेकेदार अंकित गुप्ता द्वारा की जा रही है। 6 किमी के इस सड़क को बनाने का काम 3 दिन पहले ही शुरू किया गया है। मंगनार पंचायत के गांव तुसवाल पारा में सड़क का निर्माण शुरू हुआ है।

बताया जाता है कि जिस क्षेत्र में माओवादियों ने वाहनों में आगजनी की घटना को अंजाम दिया है वह नक्सलियों का प्रभाव वाला इलाका है। ठेकेदार को पहले सड़क नहीं बनाने की चेतावनी माओवादियों ने दी थी। माओवादी दहशत की वजह से सरपंच-सचिव सहित ग्रामीणों सड़क निर्माण नहीं कराने की बात कह रहे हैं। ईई बलराम ठाकुर का कहना है कि यह संबंधित ठेकेदार की गलती है। उसे बिना सुरक्षा काम नहीं कराना चाहिए। बारसूर थाना प्रभारी सुरेंद्र पामभोई ने कहा कि बिना सुरक्षा के सड़क निर्माण कार्य ठेकेदार द्वारा किया जा रहा था। ठेकेदार को बिना सुरक्षा काम करने मना किया गया था। मामले की जांच की जा रही है।

Related Articles

Back to top button