Breaking News

कोंडागांव में किसान की आत्महत्या की जांच के लिए 9 सदस्यीय कमेटी बनाई जोगी कांग्रेस ने …

रायपुर। कोंडागाँव के मारंगपूरी के किसान धनिराम ने इसलिए आत्महत्या की क्योंकि गिरदावरी में उनके धान का रक़बा 100 क्विंटल से मात्र 11 क्विंटल कर दिया। वहीं बलोदा बाज़ार के तौरेंगा में 189 पट्टाधारी किसानों का धान का रक़बा 0 क्विंटल कर दिया।

[img-slider id="25744"]

छत्तीसगढ़ में जहां कृषि विभाग के अनुसार एक तरफ़ 2019 की अपेक्षा 2020 में 100000 मीट्रिक टन से 120000 मीट्रिक टन धान की पैदावार बढ़ी है। वहीं धान ख़रीदी का लक्ष्य मात्र 93000 मीट्रिक टन रखना सवाल खड़ा करता है।

आगामी विधानसभा सत्र में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) किसानों के साथ हो रहे अन्याय का जवाब ज़रूर माँगेगी। कोंडागाँव में किसान आत्महत्या की जाँच हेतु में नरेंद्र नेताम, श्रीमती टौसिफ जहान, सोन साय कश्यप, अमित पांडे, नवनीत चाँद, भारत कौशिक, ज्ञान प्रकाश कोर्राम, मोहन मानिकपुरी और निर्मल दीवान के नेतृत्व में 9 सदस्यीय जाँच दल का गठन किया गया है।

साथ ही तौरेंगा में किसानों के साथ हो रहे अत्याचार के लिए कुबेर यदु की अध्यक्षता में निम्नानुसार 33 सदस्यों की जाँच समिति का गठन किया गया। जिनमें दोनों जाँच दल ३ दिन में @jantacongressj राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर श्रीमती रेणु जोगी को अपनी सिफ़ारिशों के साथ रिपोर्ट सौंपेंगे आदि बातें शामिल हैं।

 

Check Also

भाजपा की प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी ने प्रदेश के नेताओं से पूछा- हम दमदार विपक्ष की भूमिका क्यों नहीं निभा पा रहे हैं ….

रायपुर। भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव और छत्तीसगढ़ प्रभारी डी पुरंदेश्वरी छत्तीसगढ़ में पार्टी की वर्तमान …

error: Content is protected !!