Breaking News

टूलकिट केस मामले में बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा को रायपुर पुलिस ने नोटिस भेजकर शाम 4 बजे थाने में पेश होने को कहा …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । रायपुर के सिविल लाईन थाने के प्रभारी ने कल देर शाम ईमेल के जरिए संबित पात्रा को भेजे गए नोटिस में उनके खिलाफ धारा 5०4,5०5(1) (बी) (सी),469 एवं 188 के तहत दर्ज अपराध में आज शाम चार बजे थाने में व्यक्तिगत रूप से अथवा वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए उपस्थित होने को कहा है। नोटिस का पालन नही करने पर वैधानिक कार्यवाई की भी चेतावनी दी गई है।  टूलकिट मामले में छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा दर्ज करवाए मामले में पुलिस ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है।

ज्ञातव्य है कि टूलकिट विवाद में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा ने कांग्रेस के कूटरचित लेटरहेड की झूठी और मनगढ़त कहानी सोशल मीडिया में प्रचारित करने के आरोप में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह एवं भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सम्बित पात्रा के खिलाफ 19 मई को प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। डा.सिंह को भी पुलिस ने इसी तरह का नोटिस जारी किया है।

भाजपा ने मंगलवार को कांग्रेस पर कोरोना महामारी के दौरान देशवासियों में भ्रम फैलाने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को धूमिल करने का आरोप लगाया और कहा कि इस संकट काल में विपक्षी दल की गिद्धों की राजनीति उजागर हुई है। एक ‘टूलकिट’ का हवाला देते हुए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि कोरोना के समय जब पूरा देश महामारी से लड़ रहा है तो कांग्रेस ने अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए भारत को पूरे विश्व में अपमानित और बदनाम करने की कोशिश की है। पात्रा ने दावा किया कि कांग्रेस ने महामारी के समय ऐसे ही ‘टूलकिट’ के जरिए सरकार के घेरने के लिए विभिन्न माध्यमों से देश में भ्रम की स्थिति पैदा कर राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश की। उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने महामारी को प्रधानमंत्री मोदी की छवि धूमिल करने के मौके के रूप में इस्तेमाल किया।

इसके जवाब में कांग्रेस ने मंगलवार को भाजपा पर ‘फर्जी टूलकिट’ तैयार करने का आरोप लगाया और सत्तारूढ़ पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा, उसके वरिष्ठ नेताओं बीएल संतोष, स्मृति ईरानी, संबित पात्रा तथा कई अन्य के खिलाफ दिल्ली पुलिस में जालसाजी की शिकायत दर्ज कराई है। कांग्रेस ने यह भी कहा कि वह प्रमुख सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स के मैनेजरों को पत्र लिखकर झूठ फैलाने वाले इन वरिष्ठ भाजपा नेताओं के सोशल मीडिया अकाउंट खत्म करने का आग्रह भी करेगी।

error: Content is protected !!