राजस्थान

राजस्थान में अन्नपूर्णा रसोई की नहीं मिलेगी दूसरी थाली

जयपुर.

राजस्थान की भजनलाल सरकार ने अन्नपूर्णा योजना में बदलाव करते हुए एक लाभार्थी को एक से ज्यादा थाली नहीं देने का निर्णय लिया है। इसके लिए स्वायत्त शासन विभाग ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। पूर्व में इस योजना में एक लाभार्थी 2 कूपन खरीद सकता था लेकिन सरकार का कहना है कि योजना में भोजन की मात्रा बढ़ा दी गई है, इसलिए एक थाली ही दी जाएगी।

राजस्थान की भजनलाल सरकार ने अन्नपूर्णा रसोई योजना में एक और बदलाव कर दिया है। सरकार ने अन्नपूर्णा रसोई में कटौती करते हुए अब एक लाभार्थी को एक ही थाली देने का निर्णय किया है। अन्नपूर्णा रसोई योजना में वैन के जरिए गरीब और जरूरतमंदों को नाश्ता और भोजन दिया जाता है। पूर्व में इस योजना में एक लाभार्थी एक से ज्यादा कूपन खरीद सकता था लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।

थाली में बढ़ाई भोजन की मात्रा
भजनलाल सरकार बनने के बाद से अब तक इस योजना में तीन बदलाव हो चुके हैं। पूर्ववर्ती वसुंधरा राजे सरकार में अन्नपूर्णा योजना शुरू की गई थी। गहलोत सरकार ने इसे बंद तो नहीं किया लेकिन इसका नाम बदलकर इंदिरा रसोई योजना कर दिया। इसके बाद भजनलाल सरकार ने फिर से इसका नाम अन्नपूर्णा योजना कर दिया। अन्नपूर्णा रसोई योजना के अंतर्गत थाली में 300 ग्राम चपाती, 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम मिलेट्स, खिचड़ी और अचार परोसा जाता है, जिसके लिए लोगों से 8 रुपये लिए जाते हैं। वहीं योजना पर सरकार की तरफ से 22 रुपये का अनुदान दिया जाता है।

Back to top button