मध्य प्रदेश

इंदौर और खजुराहो में भी होंगी जी-20 देशों की अहम बैठकें, पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे नेतृत्व, दुनिया के 20 संपन्न देश शामिल होंगे इन बैठकों में ….

भोपाल। दुनिया के संपन्न देशों के समूह जी-20 की अहम बैठकें मध्यप्रदेश में भी होने वाली हैं। यह बैठकें इंदौर और विश्व प्रसिद्ध खजुराहो में होंगी, जिसमें 20 देशों के राष्ट्र अध्यक्ष और उनके प्रतिनिधि शामिल होंगे। इंदौर में 13, 14, 15 फरवरी को जी-20 के कृषि कार्य समूह की बैठकें होंगीं, जबकि विश्व प्रसिद्ध खजुराहो में जी-20 के संस्कृति समूह की बैठक 23-25 फरवरी के बीच होगी। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे। विदेश मंत्रालय से लेकर खजुराहो प्रशासन ने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है।

भारत की अगुवाई में दुनिया के सबसे संपन्न 20 देशों का समूह जी-20 की अध्यक्षता भारत करेगा। पीएम मोदी ने हाल ही में इसका लोगो, थीम और वेबसाइट लांच की है। देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर इस आयोजन को देश के लिए एक बहुत बड़ा अवसर बताया जा रहा है। भारत को जी-20 का नेतृत्व एक दिसंबर 2022 से मिलेगा। कोविड महामारी के बाद पर्यटकों की राह देख रहे खजुराहो पर्यटन को बूस्ट मिलने वाला है। भारत में जी-20 ग्रुप के अधिकारी एस रमेश बाबू, सोनिया पुरी ने सदस्य देशों के लिए होटलों की बुकिंग भी कर दी है। अंतरराष्ट्रीय स्तर के लोगों के जमावड़े को देखते हुए खजुराहो एयर पोर्ट की व्यवस्था को देखा है।

छतरपुर कलेक्टर संदीप जीआर ने बताया कि यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल खजुराहो के मंदिरों को देखने के लिए देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं। खजुराहो के पश्चिमी मंदिरों का समूह यूनेस्को की विश्व धरोहर में भी शामिल है। इसीलिए यहां जी-20 की संस्कृति कार्य समूह बैठक होने जा रही है। संस्कृति कार्य समूह की बैठक में सदस्य देशों के अलावा दुनियाभर के मीडियाकर्मी और सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत एक दिसंबर 2022 से 30 नवंबर 2023 तक जी-20 की अध्यक्षता करेगा। इस दौरान देश के अन्य शहरों के साथ ही इंदौर में 13, 14, 15 फरवरी को जी-20 के कृषि कार्य समूह की बैठकें होंगीं। इसके बाद 23, 24, 25 फरवरी 2023 को खजुराहो में जी-20 के संस्कृति कार्य समूह की बैठकें होंगी। छतरपुर जिले के खजुराहो में महाराजा छत्रसाल कंवेंशन सेंटर में कई बैठकों का आयोजन होगा।

जी-20 समूह में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया गणराज्य, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्किये, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीय संघ (ईयू) शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button