Breaking News

आइएमए ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र, कहा- सख्त कार्यवाही हो रामदेव बाबा के खिलाफ …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) की ओर से लगातार योगगुरू रामदेव पर सख्त कार्रवाई की मांग की जा रही है। बुधवार को इसे लेकर आइएमए ने अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी पत्र लिखा है। प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में आइएमए की ओर से कहा गया है कि टीकाकरण पर बाबा रामदेव के गलत सूचनाएं देने वाले अभियान को रोका जाना चाहिए।

जैसा कि एक वीडियो में उन्होंने दावा किया है कि वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद 10 हजार डाक्टर और लाखों लोग मारे गए। रामदेव ने आखिर ऐसा कैसे कह दिया। इसके लिए रामदेव पर देशद्रोह का मामला दर्ज कर कार्रवाई की जानी चाहिए।

आइएमए ने कहा है कि हम स्वास्थ्य मंत्रालय और आइसीएमआर या नेशनल टास्क फोर्स की ओर से जारी गाइडलाइंस और प्रोटोकाल के तहत अस्पतालों में आने वाले लाखों लोगों का इलाज कर रहे हैं। यदि कोई यह दावा करता है कि ऐलोपैथिक दवाओं की वजह से लोग मरे हैं तो यह मंत्रालय को चुनौती है, जो हमें इलाज का प्रोटोकाल देता है।

पत्र में आगे कहा गया है कि पहली लहर में 753 डाक्टरों ने अग्रिम पंक्ति के योद्धा के रूप में काम करते हुए अपनी जान गंवाई, जबकि दूसरी लहर में 513 डाक्टरों की जान गई। पहली लहर में जान गंवाने वाले किसी डाक्टर का टीकाकरण नहीं हुआ था, जबकि दूसरी लहर में भी जिन डाक्टरों की मौत हुई है, उनमें से अधिकतर का विभिन्न कारणों से टीकाकरण नहीं हुआ था।

अब कहा जा रहा है कि टीके की दोनों डोज लेने के बाद 10 हजार लोगों की मौत हुई, यह जानबूझकर टीकाकरण को बाधित करने का प्रयास है । इसे तुरंत रोका जाए। इससे लोगों में भ्रम फैल सकता है ।

error: Content is protected !!