छत्तीसगढ़

डा. मुखर्जी की जयंती पर जुटे भाजपाई, मनाई गई जयंती भाजपा के सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता काफी संख्या में रहे मौजूद

मनेन्द्रगढ़
एम.सी.बी.जिला मुख्यालय मनेन्द्रगढ़ के डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी वाटिका में डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती भाजपा के कार्यकर्त्ता व पदाधिकारियो की मौजूदगी में मनाई गई, इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में भाजपा नेता कीर्ति वासु समेत सभी कार्यकर्त्ताओं ने डा. मुखर्जी की प्रतिमा में माल्यार्पण किया। अपने उद्बोधन में वरिष्ठ भाजपा नेता दिनेश्वर मिश्रा ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी (6 जुलाई 1901 – 23 जून 1953) एक भारतीय राजनीतिज्ञ, बैरिस्टर और शिक्षाविद् थे, जिन्होंने प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के मंत्रिमंडल में भारत के पहले उद्योग और आपूर्ति मंत्री (वर्तमान में वाणिज्य और उद्योग मंत्री के रूप में जाना जाता है) के रूप में कार्य किया। वें सदैव देश हित में कार्य करते रहे।

अपने उद्बोधन में कीर्ति वासु ने कहा कि डा. मुखर्जी जनसंघ के संस्थापक रहे,आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 हटा दी, लेकिन प्रश्न उठता है कि इसे किसने लगाया,जब देश आजाद हुआ तब वैकल्पिक सरकार के प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की सरकार ने इसे लागू किया, तब डा. मुखर्जी ने इसका खुल कर विरोध किया और सरकार से अपना इस्तीफा दे दिया।भाजपा मंडल अध्यक्ष आलोक जायसवाल ने भी अपने विचार रखते हुये डा. मुखर्जी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला।कार्यक्रम का संचालन महेंद्र प्रताप सिंह ने किया.इस अवसर पर पूर्व नपा उपाध्यक्ष सुरेश श्रीवास्तव,भाजपा नेता रामचरित द्विवेदी ,जे.के. सिंह, धर्मेंद्र पटवा, जया कर, गीता पासी, सुनैना विश्वकर्मा,गंगा यादव, गंभीर सिंह, जयंती यादव,जमील शाह,प्रतिमा पटवा,पूजा घोषाल, कमल सोनी, अपूर्व कर,हीरालाल रजक, रोहित वर्मा, आदित्य अग्रवाल, हिमांशु श्रीवास्तव,मुकेश सोनी, विजय पाठक समेत भाजपा कार्यकर्त्ता काफी संख्या में मौजूद रह।

Back to top button