मध्य प्रदेश

सहायक जेलर 20 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, कैदी को प्रताड़ित न करने के एवज में ले रहा था पैसे

सीहोर। लोकायुक्त पुलिस ने मध्यप्रदेश के सीहोर जिले की नसरुल्लागंज जेल के सहायक जेलर को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। जेलर कैदी को प्रताड़ित न करने और परिजनों से मिलवाने के एवज में 20 हजार की रिश्वत ले रहा था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले के गृह विधानसभा क्ष्रेत्र नसरुल्लागंज में लोकयुक्त टीम ने सहायक जेल अधीक्षक को जेल परिसर के पास स्थित शासकीय आवास पर जेल प्रहरियों व द्वारपाल को चकमा देकर 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। सहायक जेल अधीक्षक महावीर सिंह बघेल नसरुल्लागंज जेल में बंद आवेदक के साले रामनिवास उर्फ भूरा एवं अन्य चार लोगों को प्रताड़ित न करने एवं उनसे मुलाकात करवाने व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के एवज में प्रत्येक से 20-20 हजार रुपये की रिश्वत राशि ले रहा था।

लोकायुक्त टीम के मुताबिक पांच जनवरी को आवेदक अर्जुन पंवार पिता बाबूलाल पंवार निवासी बजरंगकुटी नसरुल्लागंज जिला सीहोर ने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त भोपाल को शिकायती आवेदन दिया था। शिकायत सत्यापन के बाद पाया गया कि महावीर सिंह बघेल की छवि एक भ्रष्ट अधिकारी की है, एवं उसकी रिश्वत संबंधी शिकायत सही पाए जाने पर, पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त भोपाल के निर्देशन में डीएसपी सलिल शर्मा के नेतृत्व में निरीक्षक घनश्याम मार्सकोले, निरीक्षक आशीष भट्टाचार्य, निरीक्षक मयूरी गौर की टीम ने योजनाबद्ध तरीके से आरोपी सहायक जेल अधीक्षक महावीर सिंह बघेल को उनके जेल परिसर के समीप स्थित शासकीय आवास पर 20 हजार रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

Related Articles

Back to top button