देश

जम्मू-कश्मीर में आतंक की कमर तोड़ती सेना, कुलगाम मुठभेड़ में 6 दहशतगर्द ढेर

जम्मू-कश्मीर
जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने 2 और आतंकवादियों के शव बरामद किए हैं। इस तरह कुलगाम जिले में रविवार को हुई दो मुठभेड़ों में मृतकों की संख्या बढ़कर 8 हो गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। कुलगाम जिले के 2 गांवों में शनिवार को मुठभेड़ शुरू हुई थी। अधिकारियों ने बताया, 'मोदरगाम मुठभेड़ स्थल से दो आतंकवादियों के शव बरामद किए गए। चिन्नीगाम मुठभेड़ स्थल से 4 आतंकवादियों के शव बरामद किए गए थे।' उन्होंने बताया कि आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में एक पैरा कमांडो समेत 2 सैन्यकर्मियों ने अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। बताया जा रहा है कि आतंकवाद विरोधी अभियान अभी जारी है।

जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (DGP) आरआर स्वैन ने पुष्टि करते हुए कहा कि कुलगाम मुठभेड़ में 6 आतंकवादी मारे गए हैं। श्रीनगर में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि आतंक विरोधी ऑपरेशन जोर पकड़ रहे हैं। सुरक्षा माहौल को मजबूत करने में ऐसी सफलताओं के महत्व पर उन्होंने जोर दिया। स्वैन ने कहा, 'सुरक्षा बलों के लिए यह मील का पत्थर है। ये सफलताएं सुरक्षा माहौल को मजबूत करने में अहम हैं। लोग आतंकवाद को खत्म करने के लिए एक साथ आ रहे हैं और इस तरह के ऑपरेशन गति पकड़ रहे हैं। फिलहाल ऑपरेशन जारी है।'

राजौरी में सेना शिविर पर आतंकवादियों का हमला
दूसरी ओर, जम्मू कश्मीर में राजौरी जिले के मंजाकोट इलाके में सेना के शिविर पर संदिग्ध आतंकवादियों के हमले में एक जवान घायल हो गया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि संदिग्ध आतंकवादियों ने मंजाकोट इलाके में सेना के शिविर पर तड़के गोलीबारी की। उन्होंने कहा, 'सेना के जवानों ने तेजी से कार्रवाई की और अपनी पोजीशन ले ली और गोलीबारी का करारा जवाब दिया।' सूत्रों ने बताया कि गोलीबारी के दौरान एक जवान को गोली लगी और उसे तुरंत वहां से निकाल लिया गया। उन्होंने बताया कि सेना ने पुलिस के साथ मिलकर आतंकवादियों को पकड़ने के लिए इलाके में व्यापक तलाश अभियान शुरू किया है।

Back to top button