Breaking News
.

कोरोना टीका को लेकर अखिलेश यादव ने दी सफाई; कहा- मैं साइंटिस्ट नहीं …

नई दिल्ली। कभी कोरोना वैक्सीन को भाजपा का टीका बताकर इसे ना लगवाने की अपील करने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के तंज का जवाब देते हुए कहा कि वह वैज्ञानिक नहीं हैं लेकिन दुनियाभर में बहुत से लोगों ने कोरोना का टीका नहीं लगवाया था।

कोरोना संक्रमण की वजह से मौतों को लेकर अखिलेश यादव की ओर से लगाए गए आरोपों का जवाब देते हुए उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सपा प्रमुख पर तंज कसा और याद दिलाया कि उन्होंने कोरोना टीके को बीजेपी का टीका बता दिया था। वह ना तो टीका (कोरोना) लगवाते हैं और ना टीका (माथे पर तिलक) लगवाते हैं। केशव प्रसाद मौर्य की टिप्पणी पर सत्ता पक्ष से ठहाके लगे तो अखिलेश यादव बीच में टोकते हुए खड़े हुए और सफाई दी।

अखिलेश यादव ने कहा, ”इस बहस में…जो वैक्सीन है। मैं कोई साइंटिस्ट नहीं। मैं साइंटिस्ट का पढ़ता हूं। जो रिसर्च पेपर आते हैं पढ़ता हूं। मैं वैक्सीन पर कोई टिप्पणी नहीं कर रहा। दुनियाभर में ऐसे लोग थे जिन्होंने कोई वैक्सीन नहीं लगवाई। डेप्युटी सीएम नहीं जानते यह बात।” इसके बाद उन्होंने माथे पर टीके को लेकर कहा कि आप कैसे कह सकते हैं कि मैं टीका नहीं लगवता। आप पिछड़ों को बर्बाद कर रहे हो। पिछड़ों को धोखा दिलवा रहे हो और आपको याद ही नहीं।

अखिलेश यादव ने देश में कोरोना टीकाकरण शुरू होने के बाद इसे बीजेपी का वैक्सीन बताते हुए कहा था कि वह इसे नहीं लगवाएंगे। उन्होंने यह भी कहा था कि सपा की सरकार आने पर सबको मुफ्त टीका लगवाया जाएगा। कोरोना वैक्सीन को बीजेपी का टीका कहने पर अखिलेश यादव की काफी किरकिरी हुई थी। ना सिर्फ बीजेपी बल्कि दूसरे दलों के नेताओं ने भी उनके बयान को गलत और गैर-जिम्मेदाराना कह था।

error: Content is protected !!