Breaking News
.

यशवंत को चोट और आदिवासी महिला को वोट देने के बाद अब JMM विपक्ष के साथ, अल्वा के समर्थन का ऐलान …

रांची। राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू को वोट देने वाली झारखंड मुक्ति मोर्चा ने अब उपराष्ट्रपति चुनाव में उम्मीद के मुताबिक मार्गरेट अल्वा को समर्थन देने का ऐलान किया है। पार्टी ने अपने सांसदों को विपक्षी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को वोट देने को कहा है। उपराष्ट्रपति चुनाव में अल्वा और एनडीए उम्मीदवार जगदीप धनखड़ के बीच मुकाबला है।

झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन की ओर सांसदों को जारी किए गए आदेश में कहा गया है, ”आप अवगत हैं कि आगामी उपराष्ट्रपति चुनाव में प्रतिपक्ष की ओर से मार्गरेट अल्वा उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हैं। विचार के बाद उपराष्ट्रपति चुनाव में मार्गरेट अल्वा के पक्ष में मतदान का निर्णय लिया गया है। आप सभी सांसदों को निर्देशित किया जाता है कि 6 अगस्त को होने वाले उपराष्ट्रपति चुनाव में मार्गरेट अल्वा के पक्ष में मतदान करें।” उपराष्ट्रपति चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा के तीन सांसद शिबू सोरेन, विजय हांसदा और महुआ माजी मतदाता हैं।

राष्ट्रपति चुनाव में झामुमो ने विपक्षी खेमे का साथ नहीं दिया था। पार्टी ने हजारीबाग से पूर्व सांसद और विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा की बजाय झारखंड की पूर्व राज्यपाल और आदिवासी समाज से आने वालीं द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया। झामुमो ने राज्य में आदिवासियों की बड़ी आबादी को देखते हुए यह कदम उठाया। वहीं,  कांग्रेस के भी कई विधायकों ने मुर्मू को ही वोट दिया था।

error: Content is protected !!