राजस्थान

राजस्थान-प्रतापगढ़ के दो आरोपी जावद-मप्र में हुई 3.50 लाख की लूट में गिरफ्तार

प्रतापगढ़ (राजस्थान).

नीमच जिले की जावद पुलिस ने एक सप्ताह पहले फरियादी नाथूलाल पिता नंदाजी धनगर उम्र 51 वर्ष निवासी मोडी के साथ जावद में हुई लूट की वारदात का ऑपरेशन "नीमच आई" के तहत लगाए गए सीसीटीवी कैमरों की मदद से खुलासा कर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लूटे गए तीन लाख एवं घटना में प्रयुक्त बाइक, मोबाइल बरामद करने में सफलता प्राप्त की गई।

एसपी अंकित जायसवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में  बताया कि फरियादी नाथूलाल (51) पिता नंदा धनगर निवासी मोडी थाना जावद अपनी बाइक से 10 जून को दोपहर 12 बजे केसीसी के साढे तीन लाख रुपये जमा कराने स्टेट बैंक जावद आया था। केसीसी जमा करने वाले अधिकारी ने एक महीने बाद रुपये जमा कराने का बोलने पर फरियादी वापस रुपये लेकर जा रहा था। जो गांधी चौक जावद से आगे चोपड़ा मिल के सामने पहुंचा। जहां एक काले रंग की बाइक पर दो अज्ञात व्यक्तियों ने फरियादी की बाइक के हैंडल में टंगी रुपयों से भरी साढे तीन लाख रुपयों की थैली छीन कर रामपुरा दरवाजा जावद की तरफ भाग गए। फरियादी की रिपोर्ट पर थाना प्रभारी जावद द्वारा तत्काल अपराध क्रमांक 268/24 धारा-392 भादवि का कायम कर विवेचना में लिया गया। एसपी जायसवाल ने दिनदहाड़े हुई लूट की घटना को गंभीरता से लिया। थाना प्रभारी जावद को लूट की घटना के संबंध में पुलिस टीम को लगाने एवं घटना का शीघ्र खुलासा करने संबंधी निर्देश दिए। टीआई ने निर्देशों के पालन में तत्काल आरोपीगणों की पतारसी के लिए अलग-अलग टीमें रवाना की गई। आरोपीगणों की पहचान के लिए एसपी द्वारा चलाए गए ऑपरेशन नीमच आई के तहत कस्बा जावद में लगवाए सीसीटीवी कैमरों की मदद से संदिग्धों की पहचान एवं बाइक नंबर की पहचान कर आरोपीगणों की पतारसी के लिए टीम लगातार साइबर सेल एवं मुखबिर सूचना पर राजस्थान के कई जिलो में आरोपीगणों के छुपने के समस्त संभावित स्थानों पर लगातार पतारसी एवं दबिश दी।

इसमें आरोपी सद्दाम हुसैन पिता इस्माइल खान, सोनू उर्फ इस्तयाक पिता रफीक मोहम्मद शेख दोनों निवासी थाना छोटी सादड़ी जिला प्रतापगढ़ (राजस्थान) को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने लूट करना स्वीकार किया। आरोपी सद्दाम हुसैन व सोनू उर्फ इस्तयाक शेख से नकदी तीन लाख रुपये व घटना में उपयोग की गई बाइक आरजे- 35 एसक्यू- 2455, मोबाइल फोन तथा घटना के वक्त पहने हुए कपड़े बरामद किए। दोनों आरोपी राजस्थान के कई जिलों में लूट की वारदात कर चुके हैं और वांछित थे। आरोपीगणों का आपराधिक रिकॉर्ड प्राप्त कर संपूर्ण जगह पर सूचना प्रेषित की गई है।

Back to top button