लखनऊ/उत्तरप्रदेश

यूपी में कचरे से होगी कमाई, गोरखपुर में इंदौर की तर्ज पर लगेगा बायो सीएनजी प्लांट, सुधरेगी माली हालत …

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कचरा अब सिरदर्द नहीं बल्कि कमाई का जरिया बनने जा रहा है। इदौर की तर्ज पर कचरे से बायो कंप्रेस्ड नेचुरल गैस (सीएनजी) बनाने की तैयारी चल रही है। इसके अलावा इससे लिक्विड खाद का भी निर्माण होगा। इससे ना सिर्फ कचरे का निपटारा होगा बल्कि कई नौकरियों का भी सृजन होगा। इस योजना से कचरा तो साफ होगा ही साथ ही साथ माली हालत में भी सुधार होगा और सरकारी खजाना भी भरेगा। इंदौर की कंपनी इंडो एनवायरो इंटीग्रेटेड साल्यूशन लिमिटेड के अफसरों ने बायो कंप्रेस्ड नेचुरल गैस (सीएनजी) प्लांट बनाने के लिए नगर आयुक्त अविनाश सिंह से मुलाकात की है। उन्होंने गीले और सूखे कूड़े से सीएनजी और खाद बनाने की पूरी विधि उन्हें समझाई।

अधिकारियों के साथ कंपनी के अफसरों ने मैनेजमेंट प्लांट के लिए चिह्नित जमीन देखी और कहा जा रहा है कि अफसरों को वो जमीन पसंद भी आ गई है। जानकारी के मुताबिक ये प्लांट 15 एकड़ जमीन पर बनाया जाएगा। बाकी बची जमीन पर वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाए जाने की योजना है।

इंदौर से गोरखपुर आई टीम पांच सितंबर तक गीला कचरा मिलने की समीक्षा करेगी। टीम घर-घर जाकर भी गीला और सूखा कचरा अलग-अलग करके देखेगी। अगर ये टीम संतुष्ट होती है तो फिर इंदौर से दूसरी टीम प्लांट स्थापित करने का काम शुरू करेगी।

Related Articles

Back to top button