Breaking News

गिड़गिड़ाता रहा दलित, बेरहमी से पीटते रहे ऊंची जाति के दबंग, सोशल मीडिया में वीडियो वायरल…

नई दिल्ली (पंकज यादव) । उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार आने के बाद से दलितों को जान का जोखिम उठाना पड़ रहा है। गाहे-बगाहे दलित समाज की प्रतिभावान छात्राओं के साथ दुष्कर्म कर उन्हें जान से मार देने की खबरें आम हैं। दलितों के खून से उत्तरप्रदेश लाल हो चुका है। इसी क्रम में यूपी के सुलतानपुर जिले में चार नामजद लल्लन मिश्रा, लल्लू पांडे, ब्रह्मादीन तिवारी व गिरीश शर्मा ने एक दलित को काफी देर तक बेरहमी से पीटते हुए वीडियो वायरल कर पुलिस को ही चैलेंज दे डाला। पीड़ित के पुत्र की तहरीर और वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस ने दो अलग- अलग गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। एसपी डॉ. विपिन कुमार मिश्र ने बताया कि संलिप्त दो आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

धनपतगंज थाना क्षेत्र के अगई के ब्रह्मादीन कोरी व काशीराम कोरी के बीच भूमि विवाद है। आरोप है कि पीड़ित काशीराम ने दबंगों के फरमान को न मानते हुए कुछ कह दिया। इसी से खार खाए दबंगों ने रविवार को काशीराम को गांव के बाहर एकांत स्थान पर ले जाकर लात-घूसों व चप्पल से तब तक पीटते रहे जब तक वह पूरी तरह लहूलुहान नहीं हो गया। इस बीच पीड़ित दबंगों से जिदंगी की भीख मांगता रहा लेकिन दबंगों का दिल नहीं पसीजा। दबंगों के हौसले इस कदर बुलंद थे कि पीटते वक्त खुद वीडियो भी बनवाया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

वीडियो में पीड़ित काका-काका कहकर छोड़ देने की गुहार लगा रहा है। वीडियो में दबंगों को पुलिस का भी कोई डर नहीं है। फिलहाल किसी तरह से जान बचाकर घर पहुंचे काशीराम के पुत्र कालीचरन रविवार को ही पिता को लेकर धनपतगंज थाने पहुंचे। पुलिस ने कालीचरन की तहरीर पर चार नामजद लल्लन मिश्रा, लल्लू, ब्रह्मादीन व गिरीश के खिलाफ दलित उत्पीड़न सहित अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर घायल काशीराम को जिला अस्पताल में भर्ती करवा दिया। जहां इलाज चल रहा है।

सोमवार को घटना में नया मोड़ तभ आया जब दबंगों ने दलित के पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। धनपतगंज पुलिस तुरंत एक्शन लेते हुए खुद वादी बनते हुए आरोपियों के खिलाफ 307,342 सहित अन्य गंभीर धाराओं में दूसरा मुकदमा पंजीकृत कर ब्रह्मादीन सहित दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। क्षेत्राधिकारी बल्दीराय राजाराम चौधरी मामले की छानबीन कर रहे हैं।

error: Content is protected !!