Breaking News

नहीं रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बसंत शर्मा, शोक की लहर …

बिलासपुर। कांग्रेस नेता एवं नगर निगम में पार्षद रहे बसंत शर्मा का आज निधन हो गया। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद इनका इलाज अपोलो हॉस्पिटल में चल रहा था। लगातार स्थिति बिगड़ते गई और आखिर में वे बच नहीं पाए। स्वर्गीय बसंत शर्मा डीएलएस शिक्षण समिति के चेरमेन थे और वे स्कूल व कॉलेज का संचालन कर रहे थे।

कांग्रेस नेता और डीएलएस शिक्षण संस्थान के संचालक बिलासपुर के शिक्षाविद बसंत शर्मा का आज तड़के देहावसान हो गया। अपोलो अस्पताल में उन्हें आज सुबह दिल का दौरा पड़ा। डॉक्टर उन्हें बचा नहीं सके। वे 55 साल के थे। बसंत शर्मा को कोरोना पोजिटिव आने के बाद अपोलो अस्पताल में पिछले हफ्ते भर्ती कराया गया था। बसंत शर्मा कांग्रेस के वरिष्ठ एवं ऊर्जावान नेता थे। नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष भी रहे। वे बिलासपुर के प्रतिष्ठित डीएलएस कॉलेज के चेयरमैन भी थे।

कुछ महीने पहले कोरोना से उनके DSP भाई की मौत हो गई थी। बसंत शर्मा के असामयिक निधन से लोग हैरान है। बसंत शहर के काफी लोकप्रिय और सम्मानित नेता थे। उनके स्वास्थ्य का हालचाल जानने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत का भी फोन आया था। मुख्यमंत्री ने उनका ठीक से उपचार करने का निर्देश दिए थे। इसके बावजूद अपोलो प्रबंधन ने इलाज में गंभीरता नहीं बरती। पिछले पांच दिनों से बसंत शर्मा वेंटिलेटर पर थे। वेंटिलेटर रूम से अपोलो के चिकित्सकों ने उनके परिजनों से वीडियो कॉलिंग करके स्थिति के बारे में जानकारी ली।

कल 24 अप्रैल को सुबह अपोलो की ओर से यह कहा गया कि आप चाहें तो इलाज के लिए कहीं बाहर ले जा सकते हैँ। मगर जो स्थिति है उस पर हम रिस्क उठाने को नहीं कहेंगे। परिजनों ने हैदराबाद और चेन्नई के बारे में बात की। एयर एम्बुलेंस से ले जाने की तैयारी भी थी मगर अपोलो की ओर से सकारात्मक जवाब नहीं मिलने के कारण बाहर ले जाने के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया जा सका। कल शाम से ही स्थिति खराब होने की बात कही जा रही थी और आखिर में सुबह चार बजे बसंत शर्मा ने आखिरी सांस ली। अपोलो का कहना है कि हार्ट अटैक से मृत्यू हुई है।

Check Also

कलेक्टर ने लाकडाउन में का लिया जायजा : ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही शहरी क्षेत्र का भी किया निरीक्षण …

बिलासपुर। कोरोना महामारी के संक्रमण को देखते हुए जिले में लाकडाउन प्रभावशील है। लाकडाउन के …

error: Content is protected !!
Secured By miniOrange