Breaking News

थर्ड वेव की आशंका के चलते इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने तैयारियाँ शुरू, कोविड केयर के लिए बीएसपी प्रबंधन तैयार कर रहा 114 बेड हास्पिटल …

दुर्ग । जिला प्रशासन द्वारा थर्ड वेव की आशंका से निपटने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर अपडेट करने की तैयारियाँ आरंभ कर ली गई हैं। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने इस संबंध में सभी शासकीय अस्पतालों में इंफ्रास्ट्रक्चर को अपडेट करने एवं विशेष रूप से बच्चों के पुख्ता इलाज की व्यवस्था करने निर्देश दिये हैं। अभी चंदूलाल चंद्राकर कोविड केयर हास्पिटल में बच्चों के लिए 25 बेड आईसीयू बनाने पर कार्य हो रहा है। बीएसपी प्रबंधन द्वारा भी कोविड मैनेजमेंट को पुख्ता करने की तैयारी की जा रही है इसके लिए मानव संसाधन विकास केंद्र में 114 बेड का हास्पिटल तैयार किया जा रहा है। आज भिलाई विधायक देवेंद्र यादव एवं कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने केंद्र में तैयारियों का निरीक्षण किया।

विधायक ने कहा कि हास्पिटल में इंफ्रास्ट्रक्चर की उपलब्धता के साथ ही हास्पिटल स्टाफ की उपलब्धता भी सुनिश्चित करा लें। कोविड केयर में मैनपावर की बड़ी भूमिका होती है। बीएसपी प्रबंधन ने बताया कि इस पर कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर डॉ. भुरे ने कहा कि यदि थर्ड वेव की आशंका बनती है तो हर तरह की स्थिति के लिए हमें तैयार रहना होगा। बच्चों में कोविड के प्रति प्रतिरोधक क्षमता अधिक होती है लेकिन कोविड की प्रकृति को देखते हुए किसी भी तरह का जोखिम नहीं लिया जा सकता और किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए पुख्ता व्यवस्था होनी चाहिए।

बच्चों के अधिक संख्या में संक्रमित होने की आशंका की दशा में उनके लिए इलाज की उपयुक्त व्यवस्था आवश्यक है। इसके लिए शासकीय अस्पतालों में संसाधन अद्यतन किये जा रहे हैं। चाइल्ड केयर के लिए हास्पिटल स्टाफ को प्रशिक्षित किया जा रहा है। वेबिनार की योजना है ताकि बच्चों के केयर के संबंध में हास्पिटल स्टाफ लगातार अद्यतन होता रहे। कल प्राइवेट हास्पिटल के प्रबंधकों की भी बैठक बुलाई गई थी तथा उन्हें भी कहा गया है कि बच्चों के लिए विशेष बेड तैयार रखें।

कलेक्टर ने प्रबंधन से कोविड केयर हास्पिटल के लिए हास्पिटल स्टाफ एवं चिकित्सकों की नियुक्ति के संबंध में भी पूछा। अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि इस पर कार्य किया जा रहा है। बीएसपी प्रबंधन ने कलेक्टर को बताया कि 5 जून तक कोविड केयर हास्पिटल की तैयारियाँ पूरी कर ली जाएंगी। इस पर तेजी से कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर ने यहाँ आक्सीजन की उपलब्धता एवं अन्य जरूरी सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली। इस दौरान भिलाई निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी एवं बीएसपी प्रबंधन के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!