Breaking News

ममता बनर्जी से जीतीं नंदीग्राम मगर शुभेंदु अधिकारी ने दी कड़ी टक्कर ….

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में हाल ही संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी है। इस विधानसभा चुनाव में बंगाल की सबसे चर्चित और हाई-प्रोफाइल सीट नंदीग्राम रही, यहां मतों की गिनती संपन्न हो चुकी है। इस सीट पर मुकाबला मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी और हाल ही में बीजेपी का दामन थामने वाली शुभेंदु अधिकारी के बीच रहा। टीएमसी से बीजेपी में जाने का फैसला लेना शुभेंदु अधिकारी को भारी पड़ा और वे चुनाव हार गए। इससे उनके राजनीतिक कॅरियर को भारी नुकसान पहुंचा है। कभी वे दीदी के बहुत करीबी हुआ करते थे।

[img-slider id="25744"]

शुरु से बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी को पूर्व सीएम ममता बनर्जी कांटे की टक्कर दे रहीं थीं, जिसे अंतिम के कुछ चरणों में भारी बढ़त बनाते हुए बीजेपी प्रत्याशी को करारी शिकस्त दी। दोनों के बीच मुकाबला काफी दिलचस्प हो चुका था। कभी ममता आगे हो रही थीं तो कभी शुभेंदु अधिकारी बढ़त बना ले रहे थे। आखिर में जीत ममता बनर्जी की ही हुई। उन्होंने अंतिम राउंड की गिनती संपन्न होने के बाद करीब 1200 मतों से जीत दर्ज की।

इस सीट पर 2009 के उपचुनाव से तृणमूल कांग्रेस का दबदबा रहा है। 2016 के विधानसभा चुनाव में बतौर टीएमसी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी की जीत हुई थी। उन्होंने लेफ्ट उम्मीदवार अब्दुल कबीर शेख को 81 हजार से अधिक मतों से हराया था। उन्हें ममता कैबिनेट में मंत्री भी बनाया गया था। हालांकि इस विधानसभा चुनाव से पहले शुभेंदु अधिकारी ने बीजेपी का दामन थाम लिया। इसके बाद ममता बनर्जी ने इसी सीट से चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी।

शुभेंद्र अधिकारी से पहले नंदीग्राम सीट पर बतौर टीएमसी उम्मीदवार फिरोजा बीबी ने दो बार जीत दर्ज की। इस विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी ने इसे प्रतिष्ठा की लड़ाई बना दिया। उन्होंने लगभग एक सप्ताह तक नंदीग्राम में डेरा डाले रखा। एक अप्रैल को इस सीट पर 88 प्रतिशत वोटिंग हुई थी।

Check Also

दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने मोदी सरकार को चेताया- सिंगापुर वाला कोरोना वेरिएंट भारत में ला सकता है तीसरी लहर, बच्चों के लिए खतरनाक …

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को सिंगापुर में मिले कोरोनावायरस …

error: Content is protected !!