राजस्थान

कन्हैयालाल तेली का बेटा 51 लाख का चेक लेने के दौरान मांगी सुरक्षा, बोला- फांसी से कम ना हो सजा …

उदयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुरुवार को उदयपुर में बेरहमी से कत्ल किए गए कन्हैयालाल तेली के घर पहुंचे। उन्होंने पीड़ित परिवार को 51 लाख रुपये का चेक सौंपते हुए कन्हैया के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी देने का वादा किया। इस दौरान कन्हैया के बेटे ने सीएम गहलोत से सुरक्षा की मांग की।

सीएम गहलोत से मुलाकात के बाद कन्हैयालाल तेली के बेटे यश तेली ने कहा, ‘हमने सुरक्षा की मांग की है। मेरे पिता को सुरक्षा नहीं दी गई लेकिन हमें उपलब्ध कराई जानी चाहिए। हमें इसके लिए आश्वासन दिया गया है।’ यश तेली ने दोषियों के लिए मौत की सजा की भी मांग की। उन्होंने कहा कि दोषियों को मौत की सजा से कम कुछ नहीं दिया जाना चाहिए।

यश ने आगे कहा, ‘मैंने मुख्यमंत्री से बात की है। उन्होंने हमें आर्थिक मदद भी की है। उन्होंने मुझे सरकारी नौकरी का आश्वासन दिया है।’ उन्होंने कहा कि वह (सीएम गहलोत) हमारा सहयोग कर रहे हैं, और हम भी सहयोग करने के लिए तैयार हैं।

दूसरी ओर कन्हैयालाल तेली के परिवार से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री गहलोत महाराणा भूपाल अस्पताल पहुंचे। यहां उन्होंने कन्हैयालाल पर हुए हमले के दौरान घायल हुए ईश्वर गौड़ का हाल जाना। इस दौरान उनके साथ सीएस ऊषा शर्मा और डीजीपी एमएल लाठर, एसीएस होम अभय कुमार, गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव भी मौजूद रहे।

इस दौरान सीएम गहलोत ने ईश्वर गौड़ को पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का भी ऐलान किया है। बता दें कि ईश्वर उदयपुर के राजकीय एमबी अस्पताल की सुपर स्पेशिएलिटी बिल्डिंग में न्यूरो आईसीयू में भर्ती हैं।

Related Articles

Back to top button