Breaking News

छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् करेगा विद्वानों का सम्मान …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् द्वारा वर्ष 2020 में संस्कृत के क्षेत्र में कार्य करने वाले संस्कृत विद्वानों का सम्मान किया जाएगा। इस अनुक्रम में संस्कृत में गद्य, पद्य, एवं चम्पू में नई रचना करने वाले विद्वान को महर्षि वाल्मीकि सम्मान, संस्कृत के प्रचार-प्रसार में लगे गैर सरकारी अथवा स्वैच्छिक संस्था या व्यक्ति को ऋष्य श्रृंग सम्मान, संस्कृत पाठशालाओं में संस्कृत शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अध्यापक को लोमश ऋषि सम्मान एवं राज्य की संस्कृत विदुषी को कौसल्या सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् के सचिव से प्राप्त जानकारी के अनुसार उपरोक्त सम्मान के लिए आवेदकों को संबंधित सम्मान के लिए सम्मान का नाम एवं वर्ष, व्यक्ति-संस्था का पूर्ण परिचय, पत्र व्यवहार का पता सहित, संबंधित सम्मान के लिए प्रमाणित विवरण, यदि कोई पुरस्कार-सम्मान प्राप्त किया हो तो उसका विवरण, चयन होने के दशा में सम्मान ग्रहण करने के संबंध में आवेदक की सहमति दो पासपोर्ट फोटोग्राफ के साथ लिफाफे पर सम्मान एवं वर्ष का उल्लेख करते हुए सचिव छ.ग. संस्कृत विद्यामण्डलम् (न्यू राजेन्द्र नगर, पानीटंकी के पास, छ.ग. हाथ करघा कार्यालय के सामने) रायपुर (छत्तीसगढ़) पिन: 492001 पर 5 जनवरी 2021 तक कार्यालयीन समय में प्रविष्टि प्रत्यक्ष अथवा डाक से जमा करनी होगी।

इसके बाद प्राप्त प्रविष्टियों पर विचार नहीं किया जाएगा। सम्मान के लिए प्रविष्टि प्रस्तुत करने वाले का कार्यक्षेत्र छत्तीसगढ़ होना चाहिए। निर्धारित तिथि के पश्चात प्राप्त आवेदनों पर विचार नहीं किया जाएगा। संस्कृत विद्यामण्डलम् से सम्मान प्राप्त विद्वान पुनः आवेदन न करें। प्रस्ताव का विवरण वेबसाइट http://cgsvm.cgstate.gov.in पर भी देखा जा सकाता है। इच्छुक विद्वान संस्कृत विद्यामण्डलम् के दूरभाष: 0771-4001733 से संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Check Also

कलेक्टर ने लाकडाउन में का लिया जायजा : ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही शहरी क्षेत्र का भी किया निरीक्षण …

बिलासपुर। कोरोना महामारी के संक्रमण को देखते हुए जिले में लाकडाउन प्रभावशील है। लाकडाउन के …

error: Content is protected !!
Secured By miniOrange