लखनऊ/उत्तरप्रदेश

उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षा पेपर लीक मामले में पूर्व निदेशक विनय पांडेय पर भाजपा ने गिराई गाज, किया सस्पेंड …

लखनऊ। उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षा में 12 वीं अंग्रेजी का पेपर लीक होने के मामले में माध्‍यमिक शिक्षा के पूर्व निदेशक विनय पांडेय पर भाजपा ने गाज गिराई है। सीएम योगी ने कर्तव्‍यों का निर्वहन न करने का आरोप लगाकर में मंगलवार को उन्‍हें सस्‍पेंड कर दिया। गौरतलब है कि इसी मामले में कुछ दिन पहले ही (21 अप्रैल को) विनय पांडेय को माध्‍यमिक शिक्षा निदेशक पद से हटाया गया था।

उन्‍हें उर्दू और प्राच्‍य भाषा विभाग का निदेशक बनाया गया था। मुख्‍यमंत्री कार्यालय के एक ट्वीट में कहा गया है,- ‘पदीय दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही पर मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की एक और सख्त कार्रवाई। तत्कालीन शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) निलंबित।’ इसके साथ ही कहा गया है कि योगी आदित्‍यनाथ ने पदीय दायित्‍वों का सम्‍यक निर्वहन न करने, शासकीय कार्यों के प्रति लापरवाही और उदासीनता बरतने और शासन स्‍तर के निर्देशों का अनुपालन न किए जाने के लिए प्रथमदृष्टया दोषी पाए गए तत्‍कालीन शिक्षा निदेशक (माध्‍यमिक), संप्रति निदेशक, साक्षरता वैकल्पिक शिक्षा, उर्दू एवं प्राच्‍य भाषाएं उत्‍तर प्रदेश को निलंबित करने का आदेश दिया है।

पिछले महीने बलिया में 12 वीं अंग्रजी का पर्चा लीक होने के बाद उत्‍तर प्रदेश माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड को 24 जिलों में यह परीक्षा रद्द करनी पड़ी थी। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून (नेशनल सिक्‍योरिटी एक्‍ट-एनएसए) के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया था। रद्द की गई परीक्षा 13 अप्रैल को कराई जा चुकी है।

Related Articles

Back to top button