लखनऊ/उत्तरप्रदेश

बीजेपी विधायकों की खरीद- फरोख्त का बोझ आम जनता पर डाल रही ….

लखनऊ। महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार को राष्ट्रीय कांग्रेस घेरने में लगी है तो वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में भी पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक अखबार की खबर का जिक्र करते हुए ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा- ‘भाजपा के राज में कमाई घटी है और महंगाई के साथ ही लोन पर EMI बढ़ी है। आज जनता का दुख-दर्द इतना बढ़ गया है कि अगर भाजपा सरकार उस पर टैक्स लेने लगे तो उसे किसी और टैक्स की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। सरकारों की ख़रीद-फ़रोख़्त में लगी भाजपा अपने भ्रष्टाचार का बोझ जनता पर डाल रही है। निंदनीय!’

दरअसल इस खबर में लिखा है कि रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 0.5 फीसदी की बढोतरी की घोषणा की है जिससे लोगन की ईएमआई फिर बढ़ेगी। इसी खबर को लेकर अखिलेश यादव ने सरकार पर निशाना साधा है। इससे पहले अखिलेश यादव ने यूपी में सूखे के हालात को लेकर सरकार को आगाह किया था। अखिलेश यादव ने दो दिन पहले एक खेत की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा था कि उत्तर प्रदेश के कई जिलों में कम बारिश की वजह से सूखे जैसे हालात बन रहे हैं। उनसे राहत देने के लिए उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार तत्काल आगे आए नहीं तो पहले ही महँगाई का मारा किसान बद से बदतर हालातों का शिकार हो जाएगा।

गौरतलब है कि शुक्रवार को महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर कांग्रेस ने भी देशव्यापी प्रदर्शन किया था। इस दौरान राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के कई बड़े नेता और बड़ीं संख्या में कार्यकर्ताओं सड़कों पर उतरे थे।

Related Articles

Back to top button