अमित जोगी ने कहा- भूपेश सरकार क्वॉरंटीन सेंटर बनाने, टीकाकरण करने और संक्रमितों का जांच व उपचार करने में पूरी तरह नाकाम …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । आज बस्तर संभाग के प्रदेश पदाधिकारियों और ज़िला अध्यक्षों के साथ zoom बैठक की। जहाँ एक तरफ़ आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और उड़ीसा के सीमवर्ति इलाक़ों से बड़ी तदात में श्रमिकों को तेंदूपत्ता संग्रहण के लिए ठेकेदारों द्वारा बस्तर में लाया जा रहा है।

जिसके कारण बस्तर में बहुत तेज़ी से कोरोना का जानलेवा स्ट्रेन फैल रहा है। वहीं दूसरी तरफ़ लोगों तक आवश्यक राशन पहचाने, सीमा को सील करने, RTPCR टेस्टिंग, क्वॉरंटीन सेंटर बनाने, टीकाकरण करने और संक्रमितों का उपचार करने में भूपेश सरकार पूरी तरह नाकाम सिद्ध हो रही है।

संभागीय आयुक्त को तत्काल सर्वदलीय बैठक बुलाना चाहिए; सभी बाहरी श्रमिकों का बस्तर प्रवेश पर प्रतिबंध लगा देना चाहिए और  NMDC और तेंदूपत्ता ठेकेदारों को स्थानीय लोगों से ही काम लेने का आदेश देना चाहिए। इस सम्बंध में JCCJ द्वारा आयुक्त/ ज़िला कलेक्टर के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने का निर्णय लिया है।

बैठक की आप पूरी रिकॉर्डिंग इस लिंक पर देख सकते हैं:

https://www.facebook.com/533560906781120/posts/2175541562583038/
error: Content is protected !!