Breaking News
.

वैक्सीजन के दोनों डोज लेने के बाद भी डॉक्टर की पत्नी की हुई मौत, 1002 तक पहुंचा मौत का आंकड़ा…

भोपाल। 25 दिन बाद भोपाल में कोरोना से एक और जान चली गई। जेपी हॉस्पिटल के रेडियालॉजिस्ट डॉ. राजेन्द्र गुप्ता की पत्नी रश्मि गुप्ता ने रात 2 बजे दम तोड़ दिया। वे 3 दिन पहले एम्स के आईसीयू में भर्ती हुई थीं। इससे पहले 26 अक्टूबर को कोलार निवासी एक 26 साल के युवक की चिरायु हॉस्पिटल में मौत हुई थी। भोपाल में अब तक कोरोना से 1002 मौतें हो चुकी हैं, हालांकि सरकारी रिकॉर्ड में 1001 मौतें ही हैं। डॉक्टर पत्नी की डेथ रिपोर्ट अस्पताल से मिलने के बाद इसे शामिल किया जाएगा।

62 साल के डॉ. गुप्ता और उनकी 55 साल की पत्नी ने फरवरी में ही वैक्सीन के दोनों डोज ले लिया था। दंपती की तबीयत खराब होने पर वे 13 नवंबर को अस्पताल पहुंचे और कोरोना जांच कराई। 15 नवंबर को दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। डॉक्टर और उनकी पत्नी को इलाज के लिए AIIMS में भर्ती किया गया। डॉ. गुप्ता की तबीयत ठीक हो गई और उन्हें अस्पताल से छुट्‌टी भी मिल गई थीं। वे अरेरा कॉलोनी स्थित अपने घर पर आ गए थे, लेकिन उनकी पत्नी की हालत गंभीर थी।

भोपाल में डॉक्टर की पत्नी से हुई मौत से हड़कंप मच गया है। डॉक्टर के संपर्क में आए लोगों की कोरोना जांच करवाई जा रही है। डॉ. गुप्ता ने 11 नवंबर से 13 नवंबर के बीच 150 से ज्यादा गर्भवती महिलाओं की सोनोग्राफी की थी। महिलाओं की कोरोना जांच करवाई जा रही है। JP हॉस्पिटल के सिविल सर्जन डॉ. राकेश श्रीवास्तव ने बताया, रात में डॉक्टर गुप्ता की पत्नी की मौत हो गई। गर्भवती महिलाओं की कोरोना जांच करवाई जा रही है।

प्रदेश सरकार ने कोरोना के सभी प्रतिबंध हटा दिए हैं। शादी में जितनी चाहे उतने मेहमान बुला सकते हैं। वहीं, नाइट कर्फ्यू भी हटा दिया है। स्कूल-कॉलेज, कोचिंग क्लास, हॉस्टल, जिम, सिनेमा हॉल, क्लब, योगा सेंटर, स्विमिंग पूल आदि क्षमता के अनुसार खोले जा सकते हैं। सरकार ने भले ही छूट दे दी हों, लेकिन कोरोना से बचाव की सभी सावधानियां बरती जाना जरूरी हैं। घर से बाहर निकले तो मुंह पर मास्क जरूर लगाएं। सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन करें।

error: Content is protected !!