Breaking News
.

चरित्र शंका पर सिरफिरे युवक ने पत्नी को उतारा मौत के घाट…

बिलासपुर। सिरफिरे युवक ने अपनी को पत्नी पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। घटना को छिपाने के लिए पुलिस को उल्टी-दस्त से मौत होने की जानकारी दी। बाप की करतूत को सामने लाते हुए बच्चों ने हत्या का राज खोल दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर पर अंदरूनी चोट लगने की जानकारी मिली है। पुलिस ने पति के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। घटना सिटी कोतवाली थानाक्षेत्र की है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार टिकरापारा के महाराष्ट्र मोहल्ला निवासी मोहन राजगीर 30 साल पेंटिंग का काम करता है। 12 साल पहले उसने डिपरापारा निवासी अंजली राव से प्रेमविवाह किया था। शादी के बाद सबकुछ ठीक चल रहा था। इस दौरान उनके दो बेटियां भी हुई। घर का खर्च चलाने के लिए अंजली भी झाडू-पोंछा व बर्तन साफ करने का काम करती थी। मोहन शराब पीने का आदी था। इसके चलते आए दिन घर में विवाद करता था। बीते 8 दिसंबर की रात 10.30 बजे दोनों पति-पत्नी के बीच विवाद हुआ। इस दौरान उसने अपनी पत्नी की बेरहमी से पिटाई कर दी। रात करीब 2 बजे उसकी पत्नी को उल्टी होने लगी। फिर वह सो गई। दूसरे दिन सुबह उसकी मौत हो गई थी। इस घटना की सूचना पुलिस को मिली। तब पुलिस घटनास्थल पहुंची। पूछताछ में युवक ने अंजली को उल्टी दस्त होने की बात कही। मामला संदिग्ध नजर आने पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। इधर, उसके बेटियों से पूछताछ भी की गई। तब उन्होंने अपनी के साथ पिता के विवाद करने व पिटाई करने की जानकारी दी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में अंदरूनी चोट लगने से मौत होने की बात सामने आई। इसके आधार पर पुलिस ने आरोपी मोहन राजगीर के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

चरित्र शंका पर की हत्या

पुलिस की पूछताछ में पता चला कि मोहन राजगीर अपनी पत्नी की चरित्र पर शंका करता था। इसके चलते वह शराब पीकर आए दिन उसके साथ मारपीट करता था। घटना की रात भी उसने लात-घूंसों से उसकी पिटाई की थी, जिससे उसका सिर दीवार में टकरा गया था और उसे गंभीर चोटे आई थी।

error: Content is protected !!