Breaking News
.

मप्र: कार के विशेष लॉकर में छुपाई जाती थी हवाला की रकम, इंदौर में दो दिन में 75 लाख रुपए जब्त…

इंदौर (कैलाश गौर)। एसटीएफ ने दो दिनों के भीतर हवाला के 75 लाख रुपये से ज्यादा की राशि जब्त की है। इस दौरान अलग-अलग गैंग के कुल 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक ऐसी कार बरामद की है, जिसमें रुपये छुपाने के लिए अलग से लॉकर बनवाए गए थे।

एसटीएफ सूत्रों के अनुसार, बुधवार रात एसटीएफ ने एक कार जब्त की, जिसकी सहायता से हवाला की राशि इधर से उधर की जाती थी। आरोपियों ने इसके लिए कार में एक खास लॉकर तैयार करवाया था। पुलिस ने इसी लॉकर में छुपा कर रखे गए 5 लाख रुपये जब्त किए हैं। दरअसल, मंगलवार को एसटीएफ की इंदौर यूनिट ने जावरा कम्पाउंड स्थित नाकोड़ा टावर के एक फ्लैट में दबिश देकर 7 लोगों को गिरफ्तार किया था। इनके कब्जे से 70 लाख रुपये जब्त किए गए थे। पुलिस ने जब इन आरोपियों से विस्तार से पूछताछ की तो खुलासा हुआ कि यह कारोबार बहुत बड़ा है और गिरफ्त में आए लोग तो सिर्फ मोहरे हैं।

इसी कड़ी में पूछताछ में खुलासा हुआ कि नाकोड़ा के ठीक बगल में गीतांजलि बिल्डिंग में भी हवाला का कारोबार चल रहा है। आरोपियों से पूछताछ में हुए खुलासे के आधार पर पुलिस ने गीतांजलि अपार्टमेंट से एक कार जब्त कर उसकी तलाशी ली तो उसमें भी कुछ नहीं मिला। पुलिस ने जब आरोपियों से कड़ी पूछताछ की तो खुलासा हुआ कि आरोपियों ने घर की दीवार की तरह कार में भी एक सीक्रेट लॉकर तैयार करवा रखा है। यह सीक्रेट लॉकर कार की सीट के ठीक पीछे था, जिसे एक पेटीनुमा आकृति में तैयार किया था। उसे खोलते ही पुलिस को नकद 5 लाख रुपये और मिल गए। एसटीएफ एसपी मनीष खत्री के मुताबिक गिरफ्तार चार अन्य आरोपियों के कब्जे से नोट गिनने वाली मशीन, कई मोबाइल और करोड़ों के हवाला कारोबार के हिसाब की पर्ची और डायरी जब्त की है। पुलिस को कई संदिग्ध मोबाइल नंबर भी मिले हैं, उनकी भी जांच की जा रही है। वहीं, गिरफ्तार चारों आरोपियों से भी पूछताछ की जा रही है।

error: Content is protected !!