Breaking News
.

आर्यन के सपोर्ट में आईं महबूबा मुफ्ती, बोलीं- खान होने की मिल रही सजा, किसानों की हत्या के आरोपी आशीष मिश्रा को छोड़ एक 23 साल के लड़के के पीछे पड़ी है केंद्रीय एजेंसियां …

नई दिल्ली। महबूबा ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘चार किसानों की हत्या के आरोपी केंद्रीय मंत्री के बेटे के खिलाफ कार्रवाई कर के मिसाल पेश करने की बजाय, केंद्रीय एजेंसियां एक 23 साल के लड़के के पीछे सिर्फ इसलिए पड़ी हैं क्योंकि उसका सरनेम खान है। बीजेपी के कोर वोट बैंक की इच्छाओं को पूरा करने के लिए मुस्लिमों को निशाना बनाया जाना न्याय का मजाक है।’

सोमवार को जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर से केंद्र पर निशाना साधा है। महबूबा ने लखीमपुर खीरी हिंसा के आरोपी आशीष मिश्रा और ड्रग्स केस में गिरफ्तार हुए आर्यन खान को लेकर मुस्लिमों से भेदभाव का मसला उठाया है। बता दें कि इससे दो दिन पहले ही महबूबा ने केंद्र पर खुद को नजरबंद किए जाने को लेकर निशाना साधा था।

बता दें कि मुंबई से गोवा के लिए रवाना हुए एक जहाज में चल रही रेव पार्टी में एनसीबी ने रेड की थी। इस पार्टी में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान भी मौजूद थे। फिलहाल आर्यन खान न्यायिक हिरासत में है और उनकी बेल अर्जी खारिज हो चुकी है।

वहीं, उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों के प्रदर्शन के दौरान गाड़ी से कुछ किसानों को कुचला गया, जिसमें 4 किसान सहित आठ लोगों की जान गई थी। किसान संगठनों ने आरोप लगाया कि गाड़ी में केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा भी मौजूद थे। हालांकि, केंद्रीय मंत्री और उनके बेटे ने इन आरोपों को खारिज कर दिया था लेकिन सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद अब आशीष मिश्रा को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

error: Content is protected !!