Breaking News
.

पैगंबर पर विवादित बयान: नूपुर शर्मा को मुंब्रा पुलिस का समन, 22 जून तक होना होगा हाजिर …

नई दिल्ली। भाजपा की पूर्व प्रवक्ता पंडित नूपुर शर्मा के खिलाफ पुलिस कार्रवाई शुरू हो गई है। खबर है कि मुंब्रा पुलिस ने 22 जून तक पंडित शर्मा को पूछताछ के लिए बुलाया है। उनके खिलाफ करीब तीन मामले दर्ज हुए थे। खास बात है कि पंडित शर्मा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के चलते विवादों में घिरी हुई हैं। भाजपा ने भी उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था।

पंडित शर्मा को मुंब्रा पुलिस ने 22 जून तक पेश होने के लिए कहा है। पंडित शर्मा के खिलाफ दक्षिण मुंबई के पायुधिनी पुलिस ने भी मामला दर्ज कर लिया था। रजा एकेडमी की मुंबई विंग के इरफान शेख की शिकायत के आधार पर पुलिस ने यह कार्रवाई की थी।

खास बात है कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी समेत कई लोग पंडित शर्मा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। इसके अलावा ईरान, इराक समेत करीब 14 देश पूर्व भाजपा नेता के बयान पर आपत्ति जता चुके हैं। हालांकि, पंडित शर्मा ने अपना बयान वापस लेने का ऐलान कर दिया था।

दिल्ली पुलिस ने पंडित शर्मा को पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ उनकी विवादास्पद टिप्पणी के लिए धमकियां मिलने की शिकायतों पर प्राथमिकी दर्ज की है। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ”हमने प्राथमिकी के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी है।”

उन्होंने बताया कि भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153ए (धर्म, जाति, जन्मस्थान, निवास के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 506 (आपराधिक धमकी), 507 (गुमनाम संचार द्वारा आपराधिक धमकी), 509 (शब्द, हावभाव या कार्य, जिसका उद्देश्य किसी महिला की गरिमा का अपमान करना है) के तहत अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

दिल्ली पुलिस ने पंडित शर्मा और उनके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इससे पहले, दिल्ली पुलिस ने भाजपा की पूर्व प्रवक्ता पंडित शर्मा को पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के बाद जान से मारने की धमकियां मिलने की शिकायतों के संबंध में प्राथमिकी दर्ज की थी। पंडित शर्मा ने उन्हें मिल रही धमकियों का हवाला देते हुए पुलिस से सुरक्षा मुहैया कराने का अनुरोध किया था।

एक अधिकारी ने कहा, ”पंडित शर्मा ने आरोप लगाया था कि उन्हें धमकियां मिल रही हैं और उनकी टिप्पणियों को लेकर उन्हें परेशान किया जा रहा है, जिसके बाद उन्हें एवं उनके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई गई है।”

error: Content is protected !!