Breaking News
.

मध्यप्रदेश में सितम्बर तक शुरू हो जाएंगे 132 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट…

भोपाल। कोरोना महामारी के उपचार में कारगर ऑक्सीजन की उपलब्धता को सुनिश्चित करने के लिये मध्यप्रदेश के सभी चिकित्सा महाविद्यालयों और जिला चिकित्सालयों में 189 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। इसमें से अब तक 57 ऑक्सीजन प्लांट शुरू कर दिए गए हैं, जिसमें 11 चिकित्सा महाविद्यालय और 83 प्लांट जिला चिकित्सालयों में लगाए जा रहे हैं। वहीं, 132 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट सितम्बर माह के आखिरी तक शुरू हो जाएंगे।

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. चौधरी के अनुसार प्रदेश के सिविल अस्पतालों में 48, सामुदायिक संस्थाओं में 41 और अन्य शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में 6 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं। जिन 48 सिविल अस्पताल में पीएसए प्लांट लगाए जा रहे हैं, इनमें लांजी, बारासिवनी, सेंधवा, लहार, बैरागढ़, बैरसिया, पाण्डुर्ना, सौंसर, हटा, अमोली, आरोन, हजीरा, पिपरिया, इटारसी, मानपुर, सीहोरा, पेटलावद, थांदला, विजय राघवगढ़, बड़वाह, नैनपुर, भानपुर, सबलगढ़, जावद, सारंगपुर, ब्यावरा, त्यौंथर, नसरुल्लागंज, आष्टा, शुजालपुर, नागदा, गंजबासौदा, भगवानपुरा, गाडरवारा में एक-एक और केएन काटजू भोपाल, कुक्षी, अम्बाह, जावरा, खुरई, मैहर और माधव नगर सिविल अस्पताल में दो-दो प्लांट लगाये जा रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि जिन 41 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाये जा रहे हैं, उनमें पुष्पराजगढ़, चंदेरी, घोड़ाडोंगरी, गोहद, कोलार, नजीराबाद, सियोंधा, शाहपुरा, हस्तिनापुर, मोहना, सुवासरा, गरोठ, नारायणगढ़, शामगढ़, सीतामऊ, कैलारस, पोरसा, जोरा, गोटेगाँव, मनासा, निवाड़ी, अजयगढ़, उदयपुरा, हनुमना, बुधनी, रेहटी, ब्यौहारी, बड़ौदा, करहल, विजयपुर, कोलारस, करेरा, पोहरी, मझौली, चितरंगी, पाली, भीकनगाँव, बीनागंज, चुरहट में एक-एक और जतारा में दो पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाये जा रहे हैं।

इसके अतिरिक्त एमआरटीबी चिकित्सालय इंदौर, मिलिट्री चिकित्सालय जबलपुर, एम्स भोपाल, ईएसआई चिकित्सालय नागदा, नेहरू शताब्दी चिकित्सालय सिंगरोली और रेलवे चिकित्सालय जबलपुर में भी एक-एक पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाये जा रहे हैं। अब तक 57 ऑक्सीजन प्लांट शुरू कर दिए गए हैं, शेष को सितम्बर अंत तक प्रारंभ किया जायेगा। मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि पीएसए ऑक्सीजन प्लांट सभी चिकित्सा महाविद्यालय और जिला चिकित्सालय में स्थापित किये जा रहे हैं। इनमें 11 चिकित्सा महाविद्यालय और 83 प्लांट जिला चिकित्सालयों में लगाये जा रहे हैं। सिविल अस्पतालों में 48, सामुदायिक संस्थाओं में 41 और अन्य शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में 6 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किये जा रहे हैं।

error: Content is protected !!