Breaking News
.

कांग्रेस विधायक के पुत्र ने सलाखों के पीछे बिताई रात, दुष्कर्म कर 200 दिन तक था फरार…

इंदौर। कांग्रेस विधायक का पुत्र करण मोरवाल को मंगलवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दुष्कर्म के आरोप में 200 दिनों तक फरारी काट रहा था। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जिला न्यायालय के समक्ष पेशकर एक दिन के लिए पुलिस रिमांड में भेज दिया। पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को बताया है कि फरारी के दौरान वह मथुरा- तारखेड़ी- बड़ोदरा में अपने दोस्त राहुल के साथ था। वहीं आरोपी के दोस्त को भी मंगलवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, लेकिन धारा 151 के तहत उसे जमानत थाने से ही दे दी गई। मामले में पीड़िता ने आरोप लगाया है कि फरार आरोपी दिल्ली स्थित उसके मामा के घर छिपा हुआ था। पुलिस को इस बारे में कोई जानकारी वर्तमान में नहीं दी गई है। मंगलवार रात जहां आरोपी ने सलाखों के पीछे अपनी पूरी रात बिताई। वहीं उसने पूछताछ में यह भी बताया था कि घटना के बाद वह भगवान कृष्ण की शरण में चला गया था और लंबा समय उसने मथुरा में भी बिताया था।

बुधवार दोपहर को आरोपी को जिला कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा जहां पुलिस आरोपी द्वारा पीड़िता से बात करने में उपयोग मोबाइल को जप्त करने के लिए पुलिस रिमांड मांग सकती है। आरोपी से पुलिस को अन्य साक्ष्य जुटाने के लिए कोर्ट से समय मांगा जा सकता है।

मामले में अधिवक्ता सैयद जाफर अली के अनुसार आरोपी को जिला न्यायालय से जमानत का लाभ मिलने की संभावना कम है, ऐसे में आरोपी के वकील जमानत के लिए हाई कोर्ट जाएंगे। बुधवार दोपहर तक पुलिस, करण को कोर्ट में पेश करेगी क्योंकि उसे 1 दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंपा गया है । आरोपी पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज है इसलिए यहां से आरोपी को जेल भेजने की पूरी संभावना है। मामला गंभीर होने के कारण उसे सेशन कोर्ट से भी जमानत मिलना मुश्किल हो सकती है। वहीं एक अनुमान लगाया जा रहा है कि मीडिया ट्रायल और मामला गंभीर होने के कारण अब मोरवाल को हाईकोर्ट की शरण लेनी पड़ सकती है।

इस पूरी प्रक्रिया में लंबा समय लग सकता है। अगले सप्ताह दिवाली की वजह से न्यायालय में अवकाश रहेगा इस कारण माना जा रहा है कि मोरवाल की दिवाली अब जेल में ही मन सकती है । लेकिन न्यायालय की प्रक्रिया में अभी केवल संभावना ही जताई जा सकती है

error: Content is protected !!