Breaking News
.

कोसा की चमक बनी जांजगीर-चांपा जिले की पहचान, जिले में प्रतिवर्ष 1 करोड़ कोसाफल उत्पादन ….

जांजगीर-चांपा । जांजगीर-चांपा जिला कोसा, कांसा, कंचन के नाम से विख्यात है। यहां के कारीगरों द्वारा निर्मित कोसा कपडे को  देश में ही नहीं अपितु विदेश में भी ख्याति प्राप्त है। जिले में कोसा उत्पादन को बढावा देने का प्रयास किया जा रहा है।

देश की राजधानी दिल्ली में छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के नए विक्रय केंद्र ‘‘संगवारी छत्तीसगढ़’’ विक्रय केंद्र के खुल जाने से छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के उत्कृष्ट उत्पाद अब सहजता से दिल्लीवासियों को उपलब्ध हो रहा है। इस विक्रय केंद्र में कोसा साड़ी, कोसा कुर्ती पीस, आदि सामग्रियों को विक्रय के लिए उपलब्ध कराया गया हैै।

कोसा उत्पाद को बढ़ाने के लिए राज्य तथा जिला प्रशासन द्वारा सतत प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में कोसा उत्पादन के लिए कुल 82 अर्जुन पौधे का रोपण केन्द्रों के 1,080 हेक्टेयर क्षेत्र में कृमिपालन कर प्रतिवर्ष लगभग 1 करोड़ कोसाफल उत्पादन का कार्य किया जा रहा है। जिसमें लगभग 2000 हितग्राही लाभान्वित हो रहे है। मिट्टी से रेशम परियोजना अंतर्गत जिले के 55 बीज उत्पादकों को तकनीकी प्रशिक्षण प्रदाय कर नवीन बीजागार भवन का निर्माण किया गया है।

स्वस्थ डिम्ब समूह की आपूर्ति वर्तमान में प्रगतिशील बीजागारों द्वारा की जा रही है। कोसा क्रय एवं बीज उत्पादन हेतु रिवाल्विंग फण्ड की व्यवस्था विभाग द्वारा की गई है जिससे उनके द्वारा वर्ष 2018 से वर्ष 2021 तक 4.48 लाख स्वस्थ डिम्ब समूह का उत्पादन कर  44.80 लाख रुपए की आय अर्जित की है। विभिन्न वर्ग जैसे- पौधसंधारण से श्रमिकों को, कृमिपालन से किसानों को टसर कोसा बीज उत्पादन से बीजाकारकों को, धागा उत्पादन से धागाकारकों को व बुनाई से बुनकरों को स्व-रोजगार प्राप्त हो रहा है।

देश की राजधानी दिल्ली में छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के नए विक्रय केंद्र ‘‘संगवारी छत्तीसगढ़’’  के खुल जाने से छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के उत्कृष्ट उत्पाद अब सहजता से दिल्लीवासियों को उपलब्ध हो रहा है।

इस विक्रय केंद्र में छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा खादी शूटिंग, खादी शर्टिंग वस्त्र, खादी गमछा, खादी जैकेट, खादी कुर्ता, खादी पजामा, खेस चादर, कोसा साड़ी, कोसा कुर्ती पीस, जुट पर्स और बांस की बनी सिनरी, मिट्टी के प्रिंटेड थाली सेट और हर्बल सामग्रियां को विक्रय के लिए उपलब्ध कराई गई है। दिल्ली स्थित संतुष्टि शॉपिंग कॉम्प्लेक्स शॉप नंबर 35 न्यू विलिंगडन कैम्प लोक कल्याण मार्ग एयरफोर्स स्टेशन में विक्रय केन्द्र ‘‘संगवारी छत्तीसगढ़’’ संचालित है।

error: Content is protected !!