Breaking News
.

सीएम योगी के सभास्थल पर गंगाजल छिड़ककर प्रदर्शन पर सरकार ने लिया एक्शन, सपा नेता को किया गिरफ्तार …

नई दिल्ली। समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश सचिव भावेश यादव की अगुवाई में बुधवार को सपा कार्यकर्ताओं ने गंगाजल छिड़ककर विरोध जताया था। देर शाम इसका वीडियो वायरल हो गया। इसके बाद पुलिस ने बहजोई थाने में सपा नेता भावेश यादव और आठ-दस अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धाराओं में केस दर्ज कर लिया। मामले में सपा नेता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने बताया कि एक व्‍यक्ति ने इस मामले में तहरीर दी थी। इसी आधार पर केस दर्ज किया गया। इसमें कहा गया है कि सपा कार्यकर्ताओं के इस काम से सीएम योगी के प्रशसंकों में है काफी रोष, जिससे शांति भंग होने की है आशंका है।

यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र अब ‘ शुद्धि‍करण सियासत’ शुरू हो गई है। संभल में सीएम के कार्यक्रम के अगले दिन यानी बुधवार को सपा कार्यकर्ताओं ने हैलीपैड से सभा स्‍थल तक गंगाजल छिड़ककर विरोध जताया था। इस मामले में सपा नेता भावेश यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

संभल के कैला देवी में जहां मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसभा की थी, उस स्थल पर बुधवार को पहुंचे सपा कार्यकर्ताओं ने विरोध स्वरूप शुद्धिकरण किया। उन्होंने हैलीपैड से सभास्थल कर गंगाजल छिड़ककर शुद्धिकरण किया। उधर, देर शाम इसका वीडियो वायरल होने पर खलबली मच गई। पुलिस आरोपियों के खिलाफ एफआईआर की तैयारी कर रही है।

बुधवार को समाजवादी छात्रसभा के विधानसभा अध्यक्ष हरवीर यादव, समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश सचिव भावेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी कार्यकर्ता कैलादेवी में उस जगह पर पहुंचे जहां मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जनसभा हुई थी। सपाइयों ने पूरे जनसभा स्थल से हैलीपैड तक गंगाजल छिड़का। सपाइयों ने इसके बाद शुद्धिकरण के फोटो व वीडियो वायरल कर दिया। अपने बयान में इन सपाइयों ने कहना था कि मुख्यमंत्री ने पिछड़ों, दलितों और अल्पसंख्यकों के साथ छल व नौकरियों में पक्षपात किया है। इसके कारण जनसभा स्थल अशुद्ध हो गया था,  इसलिए शुद्धिकरण किया गया।

वायरल वीडियो में राजू यादव, अशोक कुमार, चेतेन्द्र सिंह, गिरिराज सिह, सत्यवीर, उमेश, नरेश, संजीव यादव, नितिन यादव, वीरेश कुमार, हरीश कुमार आदि सपा नेता हैं।

error: Content is protected !!