Breaking News
.

मध्यप्रदेश उपचुनाव : खंडवा में भाजपा की लीड घटी, जोबट में सिर्फ एक राउंड में जीती कांग्रेस…

खंडवा। मध्यप्रदेश उपचुनाव के काउंटिंग में खंड़वा और पृथ्वीपुर से भाजपा की जश्न की तस्वीरें सामने आ रही है। वहीं खंडवा में भाजपा की लीड घटकर 33 हजार हो गई है। खंडवा में कांग्रेस ने काउंटिंग के आंकड़े गलत प्रदर्शित करने पर जिला निर्वाचन अधिकारी से शिकायत दर्ज कराई है।

जोबट में कांग्रेस ने लगातार 17 राउंड हारने के बाद 18वें राउंड में जीत का स्वाद चखा है, लेकिन भाजपा की सुलोचना रावत 13 हजार 623 वोटों से कांग्रेस के महेश पटेल से आगे हैं। अब तक 20 राउंड की गिनती पूरी हो चुकी है। ऐसे में 30 राउंड वाली जोबट सीट पर कांग्रेस की वापसी मुश्किल दिख रही है।

खंडवा में भी 33 हजार से अधिक वोटों से भाजपा के ज्ञानेश्वर पाटिल कांग्रेस के राजनारायण सिंह पुरनी से बढ़त लिए हुए हैं। हालांकि भाजपा की लीड लगातार घटने लगी है। भाजपा प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल का रिएक्शन सामने आया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की नीतियों की जीत है। पृथ्वीपुर में भाजपा ने सातवां राउंड फिर जीत लिया है।

रैगांव सीट पर 12वें राउंड में भी कांग्रेस की बढ़त बरकरार है। यहां से कांग्रेस प्रत्याशी कल्पना वर्मा भाजपा की प्रतिमा बागरी से 4 हजार 757 वोट से आगे हैं। सतना जिले की रैगांव सीट पर कांग्रेस 31 सालों से जीत नहीं सकी है। यह सीट पूर्व मंत्री जुगुल किशोर बागरी के निधन के बाद खाली हुई थी। भाजपा ने बागरी परिवार से किसी को टिकट न देकर प्रतिमा बागरी को नए चेहरे के रूप में उतारा था।

पृथ्वीपुर में 12वें राउंड तक भाजपा 4 हजार 489 वोटों से आगे। कांग्रेस नितेन्द्र सिंह राठौर कुल वोट 39880 मिले हैं, जबकि बीजेपी शिशुपाल यादव कुल 44369 वोट मिले हैं।

खंडवा लोकसभा सीट के बुरहानपुर में मतगणना स्थल पर भाजपा प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल के पास कार्ड नहीं दिखने पर गेट पर सुरक्षाकर्मियों ने रोका। कार्ड दिखाया तब अंदर जाने दिया गया। इसके पहले ज्ञानेश्वर पाटिल अपनी पत्नी जयश्री पाटिल के साथ सुबह 5 बजे बुरहानपुर के ऐतिहासिक रोकड़िया हनुमान मंदिर पहुंचे थे।

यहां पहुंचकर ब्रह्म मुहूर्त में उन्होंने भगवान रोकड़िया हनुमान को चोला चढ़ाकर मुकुट पहनाया। आरती की और अपनी जीत के लिए मनोकामना की। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी राजनारायण सिंह पुरनी ने बुरहानपुर में मतगणना केंद्र के पास हनुमान मंदिर जाकर दर्शन किए।

सबसे पहले परिणाम जोबट सीट पर आएगा

राज्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के मुताबिक जोबट विधानसभा सीट का परिणाम सबसे पहले आएगा। यहां 23 जबकि पृथ्वीपुर में 22 और रैगांव में 30 राउंड की काउंटिंग होगी। खंडवा लोकसभा के लिए 8 विधानसभा क्षेत्रों में हुए मतदान की गणना संबंधित जिला मुख्यालय में होगी। चारों सीटों में जोबट सीट पर सबसे कम 6 उम्मीदवार मैदान में हैं।

चारों सीटों पर कुल 48 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच है। खंडवा में 16, रैगांव में 16, पृथ्वीपुर में 10 और जोबट में 6 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतरे हैं। चुनाव आयोग के स्पष्ट निर्देश हैं कि चुनाव जीतने के बाद कोई भी उम्मीदवार विजयी जुलूस नहीं निकालेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी से जीतने का सर्टिफिकेट प्राप्त करने के दौरान भी उम्मीदवार के साथ सिर्फ 2 व्यक्ति साथ जा सकेंगे।

खंडवा के नतीजे पर टिकी निगाहें

खंडवा लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजों पर प्रदेशभर की निगाहें टिकी हैं, क्योंकि यह सीट सत्ताधारी भाजपा और विपक्षी कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा बनी हुई है। भाजपा ने खंडवा में ज्ञानेश्वर पाटिल को मैदान में उतारा, तो कांग्रेस ने राजनारायण सिंह पुरनी पर भरोसा जताया। दोनों ही दलों ने खंडवा में पूरी ताकत लगा दी। भाजपा की तरफ से जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत उनके कई मंत्रियों ने मोर्चा संभाला, तो कांग्रेस की तरफ से खुद कमलनाथ, अरुण यादव सहित तमाम दिग्गजों ने पुरजोर कोशिश की है।

पृथ्वीपुर में सबसे ज्यादा मतदान

सबसे ज्यादा वोटिंग पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र में हुई। यहां 78.14% मतदान हुआ। रैगांव में 69.21% और जोबट में 53.03% मतदान हुआ। खंडवा लोकसभा क्षेत्र में 63.88 % वोटिंग हुई।

शिवराज- कमलनाथ की प्रतिष्ठा दांव पर

मध्यप्रदेश में खंडवा लोकसभा और तीन विधानसभा सीटों के उपचुनाव के नतीजे न सरकार बनाएंगे, न बिगाड़ेंगे। इन्हें हवा बताने वाला चुनाव कहा जा रहा है। यदि सरकार रहते हुए शिवराज सिंह नतीजे भाजपा के पक्ष में नहीं करा पाए, तो यह उनके लिए अलार्म साबित हो सकता है। दूसरी तरफ हैं कांग्रेस के दिग्गज कमलनाथ। उनके लिए यह चुनाव जीतना, अपना रास्ता खुद बनाने जैसा है।

दमोह उपचुनाव में जीत के बाद दिल्ली तक उनकी पहले की तरह चलती रही है। यदि इस चुनाव में वे बड़ा उलटफेर नहीं कर पाए, तो नेता प्रतिपक्ष, प्रदेशाध्यक्ष से लेकर पूरी एमपी कांग्रेस की कमान संभाले कमलनाथ के लिए मुश्किल के हालात बन सकते हैं। दोनों ही नेताओं के भविष्य को देखते हुए उपचुनाव महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं।

यहां हो रही है मतगणना

विधानसभा

पृथ्वीपुर – चंद्रशेखर आजाद पीजी कॉलेज, निवाड़ी

जोबट – शासकीय पीजी कॉलेज, आलीराजपुर

रैगांव – शासकीय हायर सेंकेंडरी स्कूल व्यंकट नंबर -1, सतना

खंडवा लोकसभा

बागली विधानसभा- एक्सीलेंस हायर सेकेंडरी, नारायण विद्या मंदिर नंबर-2, देवास

मंधाता, खंडवा व पंधाना विधानसभा- शासकीय मॉडल महाविद्यालय नाहल्दा, खंडवा

नेपानगर व बुरहानपुर विधानसभा- शासकीय जीजामाता पॉलिटेक्निक कॉलेज, बुरहानपुर

भीकनगांव व बड़वाहा विधानसभा- शासकीय पीजी कॉलेज, खरगोन

error: Content is protected !!