Breaking News
.

मंदिर के पुजारी का 10 दिन में सिर काटने की धमकी देने वाले पति-पत्नी गिरफ्तार, पूर्व पुजारी मनोज शास्त्री ने ही भेजी थी चिट्ठी …

लखनऊ। भरतपुर स्थित हनुमान मंदिर के पुजारी तारा चंद शास्त्री को दो दिन पहले कथित तौर पर 10 दिन के अंदर सिर धड़ से अलग करने की धमकी भरी चिट्ठी भेजने के मामले का रविवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। पुलिस ने धमकी देने वाले आरोपी पूर्व पुजारी मनोज शास्त्री व पत्नी मनीषा देवी शास्त्री को गिरफ्तार कर लिया है। 

भरतपुर जिला पुलिस अधीक्षक (एसपी) श्याम सिंह ने पत्रकार वार्ता में इस मामले का खुलासा करते हुए कहा कि हनुमान मंदिर पर तैनात पूर्व पुजारी ने मंदिर में वापस नौकरी पाने के लिए अपनी पत्नी के साथ मिलकर वर्तमान पुजारी को जान से मारने की धमकी भरा पत्र भेजा था। गिरफ्तार दंपति की पहचान मनोज शास्त्री और उसकी पत्नी मनीषा देवी के रूप में हुई है।

एसपी ने आमजन से अपील है कि किसी भी मामले में जल्दी से गलत पोस्ट नहीं डालें और कानून-व्यवस्था को खराब नहीं किया जाए। उन्होंने कहा कि कुछ लोग अपने निजी स्वार्थ की खातिर घटना को सांप्रदायिक रूप देने की कोशिश करते हैं।

एसपी ने कहा कि मंदिर के पूर्व पुजारी मनोज शास्त्री को मंदिर कमेटी ने तीन महीने पहले पुजारी की नौकरी से निकाल दिया था | नौकरी से हटने के बाद उसके पास कोई काम नहीं था। उसे परिवार के पालन-पोषण के लिए भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।  आरोपी मनोज शास्त्री ने अपनी पत्नी मनीषा के साथ मिलकर मंदिर के नए पुजारी तारा चंद शर्मा को मंदिर के पुजारी की नौकरी से हटाने के लिए धमकी भरा पत्र मंदिर परिसर में चिपका दिया था।

धमकी भरा पत्र मिलने के बाद इस मामले की जांच के दौरान पुलिस को पता लगा कि मंदिर के पुजारी को हटाने को लेकर तीन महीने पहले कुछ विवाद हुआ था। इसके बाद पुलिस ने मंदिर के रास्तों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालीं। एक सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को एक व्यक्ति साइकिल से मंदिर की तरफ जाता हुआ दिखाई दिया था। फिर जांच में पाया कि वह व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि मंदिर का पूर्व पुजारी मनोज शास्त्री ही था। पुलिस ने दंपति को गिरफ्तार कर लिया है। पत्नी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है और मनोज को दो दिन की पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा।

error: Content is protected !!