Breaking News
.

पूर्व सीएम अखिलेश यादव बोले- तिरंगा यात्रा के बहाने दंगा करा सकती है बीजेपी ….

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक तरफ बीजेपी के हर घर तिरंगा अभियान को समर्थन देकर चौंकाया है तो दूसरी तरफ शुक्रवार को बड़ा आरोप लगाया। अखिलेश ने कहा कि भाजपा का तिरंगा यात्रा दिखावा है। सभी को सावधान रहने की जरूरत है। इसके जरिये भाजपा दंगा भी करा सकती है। पहले कासगंज में तिरंगा यात्रा के समय दंगा कराया था। अखिलेश के बयान के बाद डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने जवाब दिया है।

ब्रजेश ने कहा कि दंगा कराने वाले कभी तिरंगे का सम्मान नहीं कर सकते। बांटने का काम तो अखिलेश यादव ने किया है। जो कुनबा कभी सपा की ताकत था, आज वही सबसे बड़ी कमजोरी बन गया है। उनकी इसी मानसिकता की वजह से आज सपा डूबती नैया बन गई है।

अखिलेश यादव ने गुरुवार को जनेश्वर मिश्र पार्क में उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद एक सवाल के जवाब में कहा कि भाजपा जहां से निकली है, वह लोग तिरंगा नहीं लगाते हैं। कहा कि पूरा देश जनता है कि आरएसएस ने वर्षो तक तिरंगे का सम्मान नहीं किया। अपने कार्यालयों और मुख्यालय पर तिरंगा नही लगाया।

लखनऊ में सबसे बड़ा तिरंगा झंडा समाजवादियों ने जनेश्वर पार्क में लगाया और राष्ट्रध्वज का सम्मान किया। इसके अलावा भी कई स्थानों पर समाजवादी सरकार के समय तिरंगा ध्वज लहराया गया। भाजपा जब-जब सरकार में आती है महंगाई बढ़ा देती है। देश में इतनी महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार कभी नहीं था। भाजपा का महंगाई से कोई लेना देना नही है। आज हर चीज के दाम बढ़ा दिए हैं। दूध, दही, घी से लेकर खाने-पीने की चीजों पर पर कभी टैक्स नहीं लगा था, भाजपा ने उस पर भी जीएसटी लगाकर मंहगा कर दिया।

अखिलेश ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 15 हजार करोड़ रुपए की लागत के जिस बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का उद्घाटन किया था, वह ढह गया। सरकार इन गड़बड़ियों की ईडी, सीबीआई से जांच कब कराएगी। इस भ्रष्टाचार में शामिल लोगों की सच्चाई सामने लानी चाहिए। सपा अध्यक्ष ने कहा कि देश में 22 करोड़ युवाओं ने नौकरी के लिए फार्म डाला लेकिन उन्हें नौकरी नहीं मिली। सरकार बताए कि अग्निवीर योजना में कितने नौजवानों को नौकरी दी।

अखिलेश बोले- भाजपा सरकार वन ट्रिलियन डालर इकोनामी की बात कर करती है। यूपी में कानून नाम की कोई चीज नहीं है। सबसे ज्यादा कस्टोडियल डेथ यूपी में है। सबसे ज्यादा महिलाओं के साथ अपराध यूपी में है। मानवाधिकार आयोग ने सबसे ज्यादा नोटिस यूपी सरकार को दी हैं। सबसे ज्यादा डिजीटल फ्राड उत्तर प्रदेश में हो रहा है। यूपी में कैसे निवेश आएगा।

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के आरोपों पर कहा कि दंगा कराने वाले कभी तिरंगे का सम्मान नहीं कर सकते। बांटने का काम तो अखिलेश यादव ने किया है, जो कुनबा कभी सपा की ताकत था, आज वही सबसे बड़ी कमजोरी बन गया है। उनकी इसी मानसिकता की वजह से आज सपा डूबती नैया बन गई है।

उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव ने सैफई को ही पूरा प्रदेश समझ लिया था, तभी तो प्रदेश के विकास के बजाय वह सिर्फ सैफई तक ही सीमित थे। मेरी उन्हें सलाह है कि रात में सपने देखने के बजाय दिन में देखना शुरू करें।

error: Content is protected !!